Diclofenac sodium and Paracetamol uses in Hindi उपयोग लाभ खुराक और नुकसान

Diclofenac sodium and Paracetamol uses in Hindi उपयोग लाभ खुराक और नुकसान

Diclofenac sodium and Paracetamol uses in Hindi: डिक्लोफेनाक+पैरासिटामोल दवाओं के एक वर्ग गैर-स्टेरायडल सूजन रोधी दवा (एनएसएआईडी) या दर्द निवारक से संबंधित है ! यह दवा दर्दनाक मस्कुलोस्केलेटल संयुक्त जोड़ों का दर्द ! जैसे ऑस्टियोआर्थराइटिस, रुमेटाइड गठिया और एंकिलॉज़िंग स्पॉन्डिलाइटिस (गर्दन का दर्द) के इलाज के लिए उपयोग की जाती है ! यदि आप डिक्लोफेनाक + पेरासिटामोल के सामयिक रूप का उपयोग कर रहे हैं, तो आपको सूर्य के प्रकाश के सीधे संपर्क से बचना चाहिए ! क्योंकि सनबर्न या प्रकाश संवेदनशीलता हो सकती है !

DICLOFENAC+PARACETAMOL में डाइक्लोफेनाक (एनाल्जेसिक) और पैरासिटामोल (बुखार कम करने वाला एनाल्जेसिक) होता है ! जो दर्दनाक मस्कुलोस्केलेटल दर्द, जोड़ों के दर्द और कंकाल की मांसपेशियों की ऐंठन के खिलाफ प्रभावी होता है ! डिक्लोफेनाक साइक्लो-ऑक्सीजिनेज (COX) नामक एक रासायनिक संदेशवाहक की क्रिया को अवरुद्ध करके काम करता है !

जो घायल या क्षतिग्रस्त ऊतक स्थल पर दर्द और सूजन का कारण बनता है ! दूसरी ओर, पेरासिटामोल एक हल्के एनाल्जेसिक (हल्के दर्द निवारक) और एंटीपीयरेटिक (बुखार कम करने वाले) के रूप में कार्य करता है ! जो डिक्लोफेनाक की दर्द निवारक क्रिया को बढ़ाता है ! यह दांत दर्द, कान दर्द, पीठ दर्द और मस्कुलोस्केलेटल से संबंधित अन्य दर्द को दूर करने में भी मदद करता है !

इसे भी पढ़ें: Vitamin chart in Hindi

डायक्लोफेनेक और पेरासिटामोल टैबलेट क्या है

Table of Sub heading

डिक्लोफेनाक और पेरासिटामोल का उपयोग गठिया के कारण होने वाले दर्द, सूजन (सूजन), और जोड़ों की जकड़न से राहत पाने के लिए किया जाता है ! इन लक्षणों को कम करने से आपको अपनी सामान्य दैनिक गतिविधियों को आसान करने में मदद मिलती है ! इस दवा को नॉनस्टेरॉइडल एंटी-इंफ्लेमेटरी ड्रग (एनएसएआईडी) के रूप में जाना जाता है ! यदि आप गठिया जैसी पुरानी स्थिति का इलाज कर रहे हैं, तो अपने डॉक्टर से गैर-दवा उपचार और/या अपने दर्द का इलाज करने के लिए अन्य प्राकृतिक दवाओं का उपयोग करने के बारे में भी पूछें !

Diclofenac sodium and Paracetamol uses in Hindi में निम्नलिखित सक्रिय सामग्रियां शामिल है: Diclofenac Sodium and paracetamol.

डायक्लोफेनेक और पेरासिटामोल टैबलेट कैसे उपयोग करें

डिक्लोफेनाक+पैरासिटामोल दिल के दौरे (मायोकार्डियल इंफार्क्शन) के जोखिम में थोड़ी वृद्धि कर सकता है ! गर्भवती महिलाओं को गर्भावस्था के अंतिम तिमाही में इसका सेवन नहीं करना चाहिए ! डिक्लोफेनाक+पैरासिटामोल स्तन के दूध में उत्सर्जित होता है ! इसलिए स्तनपान कराने वाली मां को इसके उपयोग से पहले डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए !

शराब के सेवन से बचें क्योंकि यह आपके लीवर को और नुकसान पहुंचा सकता है ! इस दवा को लेने पर और भी अधिक दुष्प्रभाव पैदा कर सकता है ! यदि आपका दर्द, सूजन और बुखार के लक्षण दस दिनों के बाद भी ठीक नहीं होते हैं तो अपने चिकित्सक से परामर्श करें !

डायक्लोफेनेक और पेरासिटामोल टैबलेट कैसे कार्य करता है Diclofenac sodium and Paracetamol uses in Hindi

डिक्लोफेनाक: डिक्लोफेनाक एक गैर-स्टेरायडल सूजन रोधी दवा (एनएसएआईडी) है जिसमें एनाल्जेसिक और सूजन कम करने के गुण होते हैं ! यह मुख्य रूप से साइक्लोऑक्सीजिनेज एंजाइम (COX-1 और COX-2) को रोककर काम करता है ! यह एन्ज़ाइम प्रोस्टाग्लैंडीन (शरीर में दर्द, सूजन और बुखार पैदा करने के लिए जिम्मेदार एक रासायनिक संदेशवाहक) के संश्लेषण को बढ़ावा देता है !

पेरासिटामोल: Paracetamol में एनाल्जेसिक (दर्द निवारक) और एंटीपाइरेटिक या ज्वरनाशक (बुखार कम करने वाली) गतिविधियाँ होती हैं ! यह मस्तिष्क में रासायनिक संदेशवाहकों को अवरुद्ध करके एनाल्जेसिया पैदा करता है जो दर्द का कारण बनता है ! और हाइपोथैलेमस (मस्तिष्क में मौजूद एक ग्रंथि और शरीर के तापमान को नियंत्रित करने के लिए जिम्मेदार है) पर कार्य करके एंटीपीयरेटिक गतिविधि पूर्ण करता है !

डायक्लोफेनेक और पेरासिटामोल टैबलेट का उपयोग Diclofenac sodium and Paracetamol uses in Hindi

DICLOFENAC+PARACETAMOL रासायनिक संदेशवाहकों (प्रोस्टाग्लैंडीन और साइक्लोऑक्सीजिनेज) के उत्सर्जन को रोककर दर्द और सूजन को कम करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है ! यह रसायन बुखार और दर्द / सूजन का कारण बनता है ! डाइक्लोफेनाक+पैरासिटामोल गठिया की स्थिति में दर्द और सूजन से राहत देता है ! जिससे दर्द वाली जगह पर एंटीबायोटिक पैठ और सूक्ष्म परिसंचरण में वृद्धि होती है ! पेरासिटामोल एस्पिरिन जैसे अन्य दर्द निवारक दवाओं की तुलना में कम गैस्ट्रिक जलन पैदा कर सकता है ! और यह ज्यादातर सभी आयु समूहों में अच्छी तरह से उपयोग किया जाता है !

डिक्लोफेनाक सोडियम और पैरासिटामोल दर्द निवारक दवा है ! इसका उपयोग रूमेटोइड गठिया, एंकिलोज़िंग स्पोंडिलिटिस, और ऑस्टियोआर्थराइटिस ! जैसी स्थितियों में दर्द और सूजन को कम करने के लिए किया जाता है ! इसका उपयोग मांसपेशियों में दर्द, पीठ दर्द, दांत दर्द, बुखार, या कान और गले में दर्द को दूर करने के लिए भी किया जा सकता है ! Diclofenac sodium and Paracetamol uses in Hindi

डायक्लोफेनेक और पेरासिटामोल टैबलेट के नुकसान Diclofenac sodium and Paracetamol side effect in Hindi

डायक्लोफेनेक और पेरासिटामोल टैबलेट के दुष्प्रभाव मतली, उल्टी, भूख न लगना, दस्त, अतिसंवेदनशीलता (एलर्जी प्रतिक्रिया) और अपच हैं ! साथ ही असामान्य किडनी फंक्शन, लीवर की समस्या, असामान्य ब्लड सेल काउंट और पेट से रक्तस्राव या अल्सर इत्यादि की भी समस्या हो सकती हैं ! डिक्लोफेनाक और पेरासिटामोल टैबलेट से संबंधित दुष्प्रभाव अत्यधिक खुराक और लंबे समय तक उपयोग (दीर्घकालिक उपयोग) पर निर्भर हैं !

डायक्लोफेनेक और पेरासिटामोल टैबलेट की खुराक Diclofenac sodium and Paracetamol doses in Hindi

Diclofenac sodium and Paracetamol uses in Hindi वयस्कों के लिए 1 गोली सुबह शाम अनुशंसित है ! यह सबसे सामान्य उपचार मामलों में अनुशंसित सामान्य खुराक है ! कृपया याद रखें कि प्रत्येक रोगी और उनका मामला अलग होता है ! इसलिए रोग, रोगी की आयु और चिकित्सा इतिहास के आधार पर खुराक भिन्न हो सकती है !

डायक्लोफेनेक और पेरासिटामोल टैबलेट का रोग के साथ इंटरएक्शन

अगर आपके डॉक्टर उचित समझें तो आप इन रोग से ग्रसित होने बावजूद Diclofenac sodium and Paracetamol uses in Hindi का सेवन कर सकते हैं ! इसका तात्पर्य यह है की निम्नलिखित बीमारियों में डाइक्लोफेनेक और पेरासिटामोल नुकसान कर सकता है !

  • दमा
  • गुर्दे की बीमारी
  • दिल का दौरा
  • पीलिया
डायक्लोफेनेक और पेरासिटामोल टैबलेट का दवाओं के साथ इंटरएक्शन Diclofenac sodium and Paracetamol interaction with medicines in Hindi

Diclofenac + Paracetamol को निम्नलिखित दवाइयों के साथ लेने से दुष्प्रभाव या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं !

  • रमीप्रिल टैबलेट
  • कार्डेस एएम 5 टैबलेट
  • रैमिटोरवा कैप्सूल
  • रमिस्टार 2.5 टैबलेट
  • रमिस्टार 10 टैबलेट
  • मेक्स्ट 7.5 एफ कॉम्बिपैक
  • फोलिट्रैक्स 7.5 एमजी टैबलेट
  • फोलिट्रैक्स 15 एमजी टैबलेट
  • फोलिट्रैक्स 10 एमजी टैबलेट
  • कार्बमेज़पाइन
  • मेज़टोल एसआर 200 टैबलेट
  • टेग्रीटेल 200 टैबलेट
  • टेग्रिटल 400 टैबलेट
  • ज़ेप्टोल सीआर 300 टैबलेट
  • केतनोव इंजेक्शन
  • केतनोव टैबलेट
  • केटोफ्लैम एसआर टैबलेट
डायक्लोफेनेक और पेरासिटामोल टैबलेट के बारे में पूछे जाने वाले प्रश्न FAQs in Hindi
Q1. डिक्लोफेनाक+पैरासिटामोल क्या है?

Ans. डिक्लोफेनाक+पैरासिटामोल दो दवाओं का एक मिश्रण है ! डिक्लोफेनाक और पैरासिटामोल यह दवा दर्द और सूजन से राहत में मदद करती है ! यह शरीर में उन रासायनिक पदार्थों के स्तर को कम करके काम करता है ! जो दर्द और सूजन का कारण बनते हैं ! Paracetamol का असर जल्दी शुरू हो जाता है ! जिसका मतलब है कि इसका असर शुरू होने में बहुत कम समय लगता है ! और यह तब तक लक्षणों से राहत दिलाने में मदद करता है ! जब तक कि डाइक्लोफेनाक काम करना शुरू नहीं कर देता !

Q2. क्या डिक्लोफेनाक + पैरासिटामोल का उपयोग करना सुरक्षित है?

Ans. हाँ, डिक्लोफेनाक+पैरासिटामोल अधिकांश रोगियों के लिए सुरक्षित है ! हालांकि, कुछ रोगियों में यह मतली, उल्टी, पेट दर्द, दस्त और अन्य असामान्य और दुर्लभ दुष्प्रभाव पैदा कर सकता है !

Q3. जब दर्द दूर हो जाता है तो क्या डिक्लोफेनाक + पेरासिटामोल लेना बंद कर सकता हूँ?

Ans. डिक्लोफेनाक+पैरासिटामोल, जब लंबे समय तक दर्द से राहत के लिए उपयोग किया जाता है ! तब तक जारी रखा जाना चाहिए ! जब तक आपके चिकित्सक द्वारा अनुशंसित किया गया है ! यदि आप इसे अल्पकालिक दर्द से राहत के लिए उपयोग कर रहे हैं तो इसे बंद किया जा सकता है !

Q4. क्या डिक्लोफेनाक+पैरासिटामोल के इस्तेमाल से चक्कर आ सकते हैं?

Ans. हाँ, Diclofenac+Paracetamol के उपयोग से कुछ रोगियों में चक्कर आना ! (बेहोश, कमजोर, अस्थिर या हल्का महसूस करना) हो सकता है ! यदि आपको चक्कर आ रहा है ! तो कुछ समय के लिए आराम करना और बेहतर महसूस होने पर फिर से शुरू करना बेहतर है !

Q5. क्या डिक्लोफेनाक+पैरासिटामोल के इस्तेमाल से किडनी को नुकसान हो सकता है?

Ans. हां, डिक्लोफेनाक+पैरासिटामोल के लंबे समय तक इस्तेमाल से किडनी को नुकसान पहुंच सकता है ! सामान्य गुर्दे प्रोस्टाग्लैंडीन नामक एक रसायन का उत्पादन करते हैं जो उन्हें नुकसान से बचाते हैं ! दर्द निवारक दवाओं के उपयोग से शरीर में प्रोस्टाग्लैंडीन का स्तर कम हो जाता है ! जिससे लंबे समय तक उपयोग करने पर गुर्दे खराब हो जाते हैं !