Mtp kit use in Hindi एमटीपी किट का उपयोग खुराक और दुष्प्रभाव की समूर्ण जानकारी

Mtp kit use in hindi गर्भावस्था को रोकने के लिए गर्भपात की गोलियों का सबसे सुरक्षित विकल्प हैं

Mtp kit use in Hindi एमटीपी किट को भोजन के बाद या अपने डॉक्टर की सलाह के अनुसार ही लेना चाहिए ! आपको पहले मिफेप्रिस्टोन की खुराक एक गिलास पानी के साथ गोलियों को पूरा निगलकर इसे मौखिक रूप से लेना चाहिए ! यदि आप टैबलेट के सेवन के 30 मिनट के भीतर उल्टी का अनुभव करते हैं ! तो अपने डॉक्टर को सूचित करें या कोई अन्य टैबलेट न लें ! दवा को अपना असर करने में 24-48 घंटे लग सकते हैं ! और आपको स्पॉटिंग या ब्लीडिंग का अनुभव हो सकता है ! 36-48 घंटों की अवधि के बाद, आपको मौखिक या योनि रूप से मिसोप्रोस्टोल टैबलेट लेना होगा ! इस खुराक के सेवन के बाद आपको उचित आराम करने का सुझाव दिया जाता है ! क्योंकि इससे पेट में तेज दर्द या योनि से रक्तस्राव हो सकता है !

इस दवा के सबसे आम साइड इफेक्ट्स में मतली, उल्टी, दस्त और पेट में ऐंठन शामिल हैं ! अगर ये आपको परेशान करते हैं या ठीक नही होते हैं, तो अपने डॉक्टर को बताएं ! उन्हें कम करने या रोकने के तरीके है ! कुछ साइड इफेक्ट्स का मतलब यह हो सकता है ! कि आपको तुरंत अपने डॉक्टर को सूचित करना चाहिए जिसमें भारी योनि से रक्तस्राव या तेज पेट में दर्द शामिल है !

अन्य लिंक: प्रिगा न्यूज़ किट इस्तेमाल का तरीका

एमटीपी किट क्या है What is mtp kit in Hindi

एमटीपी किट अधिकतम आठ सप्ताह तक प्रारंभिक गर्भावस्था को रोकने के लिए गर्भपात की गोलियों का सबसे सुरक्षित विकल्प हैं ! इसके अलावा, एम टी पी Mtp kit use in Hindi कि गोलियाँ महिलाओं की गोपनीयता के साथ-साथ उनकी गर्भावस्था की सर्जरी को समाप्त करने के लिए आवश्यक समय और धन की बचत की अनुमति देती हैं ! गर्भपात की कई गोलियां भारतीय बाजार में उपलब्ध हैं ! हालांकि, सभी टैबलेट उपयोग करने के लिए सुरक्षित नहीं हैं !एक व्यक्ति के पास एक बेहतरीन नुस्खा होना चाहिए जो इन गोलियों को खरीदने के साथ पूरा हो जाता है !गर्भपात की गोलियों का उपयोग कब और कैसे करना है इत्यादि की चिंता न करें, इस पोस्ट में, हम आपकी सभी पूछताछों का समाधान करेंगे !

इस दवा को लेने से पहले, अपने डॉक्टर को बताएं कि क्या आपको कभी अस्थानिक गर्भावस्था हुई है ! या आप स्तनपान करा रही हैं या अंतर्गर्भाशयी (कॉपर टी) उपकरण का उपयोग कर रही हैं ! आपके डॉक्टर को अन्य सभी दवाओं के बारे में भी पता होना चाहिए जो आप ले रहे हैं ! क्योंकि इनमें से कई दवाएं इस दवा को कम प्रभावी बना सकती हैं ! या इसके काम करने के तरीके को बदल सकती हैं ! आपको गर्भपात के दौरान भारी व्यायाम, दौड़ना और गाड़ी चलाना जैसी ज़ोरदार गतिविधियों से बचना चाहिए ! क्योंकि यह रक्तस्राव को प्रभावित कर सकता है ! गर्भपात पूरा होने की जांच के लिए आपका डॉक्टर अल्ट्रासाउंड या पेल्विक जांच कर सकता है !

एमटीपी किट के फायदे Benefits of mtp kit use in Hindi

चिकित्सा गर्भपात में:
एमटीपी किट Mtp kit use in Hindi का इस्तेमाल गर्भावस्था के शुरुआती हिस्से में अबॉर्शन कराने के लिए किया जाता है ! इसका उपयोग गर्भावस्था के 10 सप्ताह तक (आपके अंतिम मासिक धर्म के पहले दिन से 63 दिन तक) किया जाता है ! यह दवा प्रभावी रूप से प्राकृतिक महिला हार्मोन को अवरुद्ध करती है ! जिसे प्रोजेस्टेरोन कहा जाता है, जो आपकी गर्भावस्था को जारी रखने के लिए आवश्यक है ! कृपया इसे केवल डॉक्टर द्वारा सलाह के अनुसार ही इस्तेमाल करें !

एमटीपी किट कैसे कार्य करता है How work mtp

एमटीपी किट दो दवाओं मिफेप्रिस्टोन और मिसोप्रोस्टोल से मिलकर बना है ! जो गर्भपात का कारण बनता है ! मिफेप्रिस्टोन प्रोजेस्टेरोन के प्रभाव को रोकता है ! प्रोजेस्टेरोन एक प्राकृतिक महिला हार्मोन जो गर्भावस्था को बनाए रखने के लिए आवश्यक है ! इस हार्मोन के बिना, गर्भाशय (गर्भ) की परत मासिक धर्म के दौरान टूट जाती है ! और गर्भावस्था के विकास को रोक देती है ! मिसोप्रोस्टोल गर्भपात का कारण बनने के लिए गर्भाशय के संकुचन को बढ़ाता है !

एमटीपी किट की खुराक Doses of mtp kit in Hindi

मौखिक उपयोग के लिए मिफेप्रिस्टोन टैबलेट और योनि उपयोग के लिए मिसोप्रोस्टोल टैबलेट अनुसंषित है ! Mtp kit use in Hindi

एमटीपी टैबलेट कम्पोजीशन Composition of mtp kit in Hindi

प्रत्येक पैक में 5 गोलियां होती हैं:
ए : 1 मिफेप्रिस्टोन टैबलेट

प्रत्येक अनकोटेड टैबलेट में शामिल हैं:

मिफेप्रिस्टोन…200 मिलीग्राम

बी : 4 मिसोप्रोस्टोल टैबलेट

प्रत्येक अनकोटेड टैबलेट में शामिल हैं:

मिसोप्रोस्टोल…200 एमसीजी !

एमटीपी किट के उपयोग सम्बंधित सावधानियां Precautions during mtp kit use in Hindi

विशिष्ट अध्ययनों के अनुसार वृक्कीय विफलता यकृत विफलता और कुपोषण के रोगियों में मिफेप्रिस्टोन की सिफारिश नहीं की जाती है ! कार्डियोवैस्कुलर, उच्च रक्तचाप, हेपेटिक, श्वसन या गुर्दे की बीमारी जैसी पुरानी चिकित्सीय स्थितियों वाली महिलाओं में मिफेप्रिस्टोन की सुरक्षा और प्रभावकारिता पर कोई डेटा नहीं है !

इंसुलिन पर निर्भर मधुमेह मेलिटस, एनीमिया, भारी धूम्रपान या 35 वर्ष से अधिक उम्र की महिलाएं और जो प्रति दिन 10 या अधिक सिगरेट भी पीती हैं ! उन्हें सावधानी के साथ इस दवा का व्यवहार किया जाना चाहिए क्योंकि ऐसे रोगियों को आमतौर पर मिफेप्रिस्टोन के नैदानिक ​​परीक्षणों से बाहर रखा गया था !

मिफेप्रिस्टोन प्रशासन के 2 दिनों से अधिक समय बाद मिसोप्रोस्टोल प्रशासित होने पर मिफेप्रिस्टोन की प्रभावशीलता कम हो सकती है ! Mtp kit use in Hindi

कृत्रिम हृदय वाल्व वाले मरीजों या जिनके पास संक्रामक एंडोकार्टिटिस का पुराना प्रकरण है ! उन्हें उचित रोगनिरोधी एंटीबायोटिक उपचार प्राप्त करना चाहिए !

एक महिला में एक योग्य प्रशिक्षित चिकित्सा पेशेवर द्वारा एक शारीरिक परीक्षण किया जाना चाहिए, जो चिकित्सा गर्भपात के लिए प्रमाणित पेशेवर हो !

एम टी पी किट इंटरेक्शन Interaction of mtp kit use in Hindi

मिफेप्रिस्टोन, मिसोप्रोस्टोल या अन्य प्रोस्टाग्लैंडीन के लिए एलर्जी या ज्ञात अतिसंवेदनशीलता हो सकती है ! जैसे कि एनाफिलेक्सिस, एंजियोएडेमा, दाने, पित्ती और खुजली सहित एलर्जी संबंधी प्रतिक्रियाएं इत्यादि ! आईयूडी जगह पर (आईयूडी गर्भावस्था समाप्ति में हस्तक्षेप कर सकता है ! जीर्ण अधिवृक्क विफलता (तीव्र गुर्दे की कमी का खतरा) रक्तस्रावी विकार या समवर्ती थक्कारोधी चिकित्सा (भारी रक्तस्राव का जोखिम) यदि कोई आपात स्थिति विकसित होती है !

तो उचित चिकित्सा देखभाल तक पहुंच होना महत्वपूर्ण है ! यदि रोगी के पास अपूर्ण गर्भपात, रक्त आधान और आपातकालीन पुनर्जीवन के आपातकालीन उपचार प्रदान करने के लिए सुसज्जित चिकित्सा सुविधाओं तक पर्याप्त पहुंच नहीं है ! तो उपचार प्रक्रिया के दौरान मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है !

एम टी पी किट के बारे में अक्सर पूछे जानें वाले प्रश्न FAQs in Hindi
Q1. एमटीपी किट क्या है और इसका उपयोग किस लिए किया जाता है?

Ans. एमटीपी किट में दो दवाएं हैं, मिफेप्रिस्टोन और मिसोप्रोस्टोल ! एमटीपी किट का प्रयोग मेडिकल गर्भपात के लिए किया जाता है ! इसका उपयोग केवल एक गर्भावस्था को समाप्त करने के लिए किया जाता है ! जो कि 63 दिनों से अधिक पुरानी नहीं होनी चाहिए, यह अंतिम मासिक धर्म के पहले दिन से गिना जाता है !

Q2. मुझे एमटीपी किट कैसे और किस खुराक में लेना चाहिए?

Ans. एमटीपी किट का सेवन डॉक्टर के सलाह अनुसार ही करना चाहिए ! कोर्स की शुरुआत मिफेप्रिस्टोन से होती है ! मिफेप्रिस्टोन लेने के 36-48 घंटे बाद मिसोप्रोस्टोल लेने की सलाह दी जाती है ! हालांकि, मिसोप्रोस्टोल को केवल स्त्री रोग विशेषज्ञ की देखरेख में, क्लिनिक या अस्पताल की सेटिंग में लिया जाना चाहिए !

Q3. एमटीपी किट का कोर्स पूरा करने के बाद मुझे क्या उम्मीद करनी चाहिए?

Ans. मिफेप्रिस्टोन लेने के बाद, आपको योनि से रक्तस्राव का अनुभव हो भी सकता है और नहीं भी ! हालाँकि, मिसोप्रोस्टोल लेने के तुरंत बाद आपको पेट में ऐंठन, दस्त, पेट दर्द और मतली का अनुभव हो सकता है ! मिसोप्रोस्टोल लेने के 4 घंटे के भीतर आपको योनि से रक्तस्राव भी हो सकता है ! इस दवा को लेने के बाद आपको कम से कम 3 घंटे तक क्लिनिक या स्वास्थ्य केंद्र में रहने के लिए भी कहा जा सकता है ! मिफेप्रिस्टोन (मिसोप्रोस्टोल से पहले ली गई गोली) लेने के 14 दिनों के बाद, आपका स्त्री रोग विशेषज्ञ कुछ रक्त परीक्षण कर सकता है ! या अल्ट्रासोनोग्राफी कर सकता है यह पुष्टि करने के लिए कि गर्भावस्था समाप्त हो गई है या नहीं !

Q4. क्या एमटीपी किट मेरे भविष्य में गर्भवती होने की संभावनाओं को प्रभावित कर सकती है?

Ans. नहीं, अध्ययनों से पता चला है कि यह दवा महिलाओं की प्रजनन क्षमता को ख़राब नहीं करती है ! आपके भविष्य में गर्भवती होने की संभावना उतनी ही है जितनी जितनी पहले थी ! Mtp kit use in Hindi !

Q5. एमटीपी किट लेने के सामान्य दुष्प्रभाव क्या हैं?

Ans. एमटीपी किट का उपयोग करने के सामान्य दुष्प्रभाव पेट में दर्द, पेट में ऐंठन, जी मिचलाना, दस्त, चक्कर आना, गर्भाशय में संकुचन, पैल्विक दर्द और कंपकंपी हैं ! यदि आप बहुत भारी योनि से रक्तस्राव का अनुभव करते हैं या यदि इनमें से कोई भी दुष्प्रभाव आपको परेशान करता है ! तो कृपया अपने स्त्री रोग विशेषज्ञ से परामर्श करें !