Looz syrup uses in Hindi लूज सिरप का उपयोग, खुराक, फायदे और नुकसान

लूज सिरप का उपयोग कब्ज के उपचार के लिए जाता है ! इसके सेवन से मल ढ़ीला होकर हल्के एसिड में टूट जाता है ! यह ऑस्मोसिस के माध्यम से शरीर से पानी खींचता है और बृहदान्त्र में छोड़ता है ! जो मल को नरम और पारित करने के लिए आसान बनाता है ! इसका उपयोग यकृत एन्सेफैलोपैथी के इलाज के लिए भी किया जाता है ! इसका सेवन मस्तिष्क की कुछ विपरीत स्थितियों को भी रोकता है ! जो यकृत की विफलता के कारण उत्पन्न होती हैं ! जिससे भ्रम, समस्याएं, झटके, व्यवहार में बदलाव, चिड़चिड़ापन, समन्वय की हानि, नींद की समस्याएं और चेतना की हानि इत्यादि ! हमें उम्मीद है कि आज का यह विषय Looz syrup uses in Hindi ! आपकी कब्ज…

Continue Reading Looz syrup uses in Hindi लूज सिरप का उपयोग, खुराक, फायदे और नुकसान

Yogurt in Hindi कर्ड और योगर्ट में अंतर एवं दही के फायदे

दही एक मुख्य डेयरी प्रोडक्ट है जो दूध से बनाया जाता है ! इसमें प्रोटीन और कैल्शियम भरपूर मात्रा में होता है ! और यह आंत मे स्वस्थ बैक्टीरिया को बढ़ाता है ! यह विभिन्न आंत्र रोग से राहत देता है और पाचन क्रिfया मजबूत करता है ! साथ ही दही की तासीर ठंडी होने से गर्मी के दिनों में शरीर को लूह (गर्म हवाओं) से बचाता है ! दही के नियमित सेवन से ऑस्टियोपोरोसिस होने का खतरा कम हो जाता है ! लेकिन ये दही के सेवन के प्रकार पर निर्भर करता हैं ! चीनी मिश्रित और प्रसंस्कृत दही इसकी गुणवत्ता को कम कर देते हैं ! Yogurt in Hindi दही तब ज्यादा फायदेमंद होती है जब इसे ताजा दूध के साथ प्राकृतिक रूप…

Continue Reading Yogurt in Hindi कर्ड और योगर्ट में अंतर एवं दही के फायदे

Alkasol syrup uses in Hindi अल्कासोल सिरप का उपयोग, खुराक और फायदे

Alkasol syrup uses in Hindi: यह पूरी तरह से सिरप के रूप में उपलब्ध है ! जो मुख्य रूप से अर्थराइटिस, गाउट या गुर्दे की पथरी के रोगियों और मूत्र संक्रमण से पीड़ित रोगियों के लिए निर्धारित है ! अपनी क्षारीय संपत्ति के कारण यह रक्त और मूत्र से उपजी एसिड को बेअसर करता है ! साथ ही पेशाब में जलन का उपचार करने के लिए Alkasol दवा बहुत ही प्रचलित है ! वास्तव में इसके सेवन से पेशाब की जलन की समस्या कुछ ही मिनटों या घंटों मे ठीक हो जाती है ! अल्कासोल सिरप मूत्र के पीएच pH को बढ़ाता है ! और अम्लता को कम करता है जिसके परिणाम स्वरूप यूरिक एसिड की मात्रा शरीर में घटने लगती हैं ! इस प्रकार…

Continue Reading Alkasol syrup uses in Hindi अल्कासोल सिरप का उपयोग, खुराक और फायदे

Arthritis in Hindi अर्थराइटिस, (गठिया) क्या है और इसका उपचार ऐसे करें

अर्थराइटिस एक सूजन युक्त अस्थि विकार है Arthritis in Hindi ! यह समस्या वहीं होती है जहां दो अलग-अलग हड्डियां मिलती हैं ! अर्थात हड्डियों के जोड़ों में यह विकार उत्पन्न होता है ! गठिया का शाब्दिक अर्थ है एक या अधिक जोड़ों की सूजन ! जोड़ों के दर्द के साथ अक्सर गठिया होता है ! जोड़ों के दर्द को आर्थ्राल्जिया भी कहा जाता है ! इस समस्या में जब चार या अधिक जोड़ शामिल होते हैं, तो गठिया को पॉलीआर्थराइटिस कहा जाता है ! जब दो या तीन जोड़ शामिल होते हैं, तो इसे ओलिगोआर्थराइटिस कहा जाता है ! जब केवल एक संयुक्त शामिल होता है, तो इसे मोनोआर्थराइटिस कहा जाता है ! गठिया के मुख्य लक्षणों में जोड़ों में सूजन, कोमलता, घुटनों में…

Continue Reading Arthritis in Hindi अर्थराइटिस, (गठिया) क्या है और इसका उपचार ऐसे करें

Thyroid symptoms in Hindi थायराइड के लक्षण | कारण प्रकार और उपचार

गर्दन के आधार पर स्थित थायरॉयड एक तितली के आकार की ग्रंथि है ! यह अंतःस्रावी तंत्र नामक ग्रंथियों के एक जटिल नेटवर्क का हिस्सा है ! एंडोक्राइन सिस्टम शरीर के कई कार्यों के लिए महत्वपूर्ण है ! जबकि थायरॉयड ग्रंथि द्वारा शरीर के चयापचय को कंट्रोल करने वाले हार्मोन बनते हैं ! जब थायरॉयड ग्रंथि द्वारा बहुत अधिक मात्रा में हार्मोन बनता है ! तब उसे हाइपरथायरायडिज्म कहा जाता है ! और जब यह हार्मोन कम मात्रा में बनते हैं ! तब इन्हें हाइपोथायरायडिज्म के नाम से जाना जाता है ! Thyroid symptoms in hindi नामक विषय इसी समस्या का समाधान है ! इन दोनों परिस्थितियों में कई अलग-अलग विकार उत्पन्न हो सकते हैं ! होसीमोटो थायरॉयडिटिस, ग्रेव्स रोग, घेघा और थायरॉयड नोड्यूल्स इनके…

Continue Reading Thyroid symptoms in Hindi थायराइड के लक्षण | कारण प्रकार और उपचार

Black salt in Hindi काला नमक क्या है और इसके फायदे क्या क्या है

हालांकि विभिन्न प्रकार के काले नमक उपयोग के लिए उपलब्ध हैं ! परंतु हिमालयी काला नमक सबसे आम है ! जिसे सेंधा नमक के नाम से जाना जाता है !जो पाकिस्तान, बांग्लादेश, भारत, नेपाल और अन्य स्थानों से आता है ! काले नमक का उपयोग पहली बार आयुर्वेदिक चिकित्सा में किया गया था ! जो स्वास्थ्य के लिए एक पारंपरिक और समग्र दृष्टिकोण के लिए उपयुक्त माना गया था ! आयुर्वेदिक उपचार कर्ताओं का दावा है कि हिमालयी काले नमक में चिकित्सीय गुण होते हैं ! यह दावा ठोस अनुसंधान में निहित हैं ! दिलचस्प बात यह है कि इसके नाम के बावजूद, हिमालयन काला नमक गुलाबी-भूरे रंग का है ! इसके सेवन से डायबिटीज, थायराइड और घुटनों में दर्द जैसी समस्याएं कम होती हैं…

Continue Reading Black salt in Hindi काला नमक क्या है और इसके फायदे क्या क्या है

Aditya birla health insurance in hindi | आदित्य बिडला एक्टिविस्ट डायमंड प्लान

आदित्य बिड़ला हेल्थ इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड ने अक्टूबर 2016 में आदित्य बिड़ला कैपिटल लिमिटेड और एमएमआई स्ट्रैटेजिक इन्वेस्टमेंट्स प्राइवेट लिमिटेड के बीच एक संयुक्त उद्यम के रूप में अपना अभियान शुरू किया ! यह स्वास्थ्य बीमा पॉलिसियों की एक विस्तृत श्रृंखला प्रदान करता है ! जो ग्राहकों को व्यापक कवरेज प्रदान करता है ! और आकर्षक लाभों के साथ उनकी विविध स्वास्थ्य संबंधी जरूरतों को पूरा करने के लिए डिज़ाइन किए गए हैं ! Aditya birla health insurance (आदित्य बिड़ला हेल्थ इंश्योरेंस) क्षतिपूर्ति योजनाओं, निश्चित लाभ योजनाओं, असाध्य बीमारी योजनाओं के विभिन्न रूपों की पेशकश प्रदान करता है ! आप कैशलेस उपचार और अस्पताल में भर्ती, डेकेयर उपचार, आयुष कवर, (इन-रोगी) अस्पताल में भर्ती, पूर्व और बाद में अस्पताल में भर्ती होने जैसी कई स्वास्थ्य…

Continue Reading Aditya birla health insurance in hindi | आदित्य बिडला एक्टिविस्ट डायमंड प्लान

Acidity home remedies in hindi एसिडिटी, पेट में जलन के रामबाण घरेलू नुस्खे

हमारा पेट भोजन को पचाने के लिए एसिड का उत्पादन करता है ! जिसे हाइड्रोक्लोरिक एसिड HCL के नाम से जाना जाता है ! यह मनुष्य द्वारा खाए गए भोजन को पचाने का कार्य करता है ! भोजन को पचाने के लिए शरीर द्वारा जो अम्ल Acidity home remedies in hindi उत्पन्न होता है वह पेट में भोजन के न मिलने पर पेट की अंदरूनी परत को धीरे-धीरे पचाने लगता है ! जब लंबे समय तक भोजन का सेवन नहीं किया जाता है ! तो इससे पेट में अल्सर भी हो सकता है ! हमारे शरीर में विभिन्न तंत्र अधिक एसिड को रोकते हैं लेकिन जब एक या अधिक तंत्र बाधित होने लगते है ! तब एसिड एसोफैगस में प्रवेश करता है जिसके कारण छाती…

Continue Reading Acidity home remedies in hindi एसिडिटी, पेट में जलन के रामबाण घरेलू नुस्खे

Kidney stones symptom in Hindi किडनी, गुर्दे की पथरी के लक्षण, कारण और प्रकार

गुर्दे के पथरी का विकास तब होता है जब सेवन किए गए खनिज गुर्दे के अंदर पत्थरों का निर्माण करते हैं ! साथ में पानी कम पीना और आक्जलेट से परिपूर्ण खाद्य पदार्थ संबंधित कारक गुर्दे की पथरी के निर्माण में सहायक होते हैं ! किसी व्यक्ति का चिकित्सा इतिहास भी गुर्दे की पथरी के विकास में योगदान कर सकता है ! जब तक गुर्दे की पथरी आकार में छोटी होती है ! तब तक किसी का ध्यान पथरी की तरफ नहीं जाता है ! लेकिन जब यह बड़े पत्थरों के रूप में परिवर्तित हो जाता है तब तेज असहनीय दर्द, Renal colic हो सकता है ! उपचार के बिना, गुर्दे की पथरी से मूत्र संबंधी समस्याएं, संक्रमण और गुर्दे की क्षति हो सकती है…

Continue Reading Kidney stones symptom in Hindi किडनी, गुर्दे की पथरी के लक्षण, कारण और प्रकार

Liver cirrhosis in hindi लिवर सिरोसिस के लक्षण, निदान क्या है और कैसे होता है उपचार

जिगर शरीर का एक बहुत ही महत्वपूर्ण अंग है ! और आमतौर पर क्षतिग्रस्त कोशिकाओं को पुनर्जीवित करने में सक्षम है सिरोसिस तब विकसित होता है ! जब लिवर को नुकसान पहुंचाने वाले कारक जैसे अत्यधिक शराब और अधिक समय तक वायरल संक्रमण का प्रभाव बना रहता है ! जब ऐसा होता है तो जिगर घायल और जख्मी हो जाता है ! और ऐसी स्थिति में जिगर ठीक से काम नहीं कर सकता है ! जिसके कारण शरीर की त्वचा पीली होने लगती हैं ! और आखिरकार इसका परिणाम सिरोसिस Liver cirrhosis in Hindi के रूप में तब्दील हो जाता है ! अंततः लीवर ट्रांसप्लांट ही अंतिम उपाय बचाता है ! अधिकांशत: आप अपने जिगर के नुकसान को ठीक नहीं कर सकते हैं ! लेकिन…

Continue Reading Liver cirrhosis in hindi लिवर सिरोसिस के लक्षण, निदान क्या है और कैसे होता है उपचार

Benefits of kapalbhati in hindi कपालभाति प्राणायाम के फायदे और करने का तरीका

कपालभाति प्राणायाम योग में एक साँस लेने का अभ्यास है ! इसका नाम संस्कृत शब्द कपल से लिया गया है ! जिसका अर्थ खोपड़ी और भाटी (चमकना) है ! यह क्रिया उन्नत श्वास तकनीक के लिए महत्वपूर्ण है जो आपकी छाती को मजबूत करती है ! आपके पेट के अंगों को साफ करती है और आपके संचार के साथ-साथ तंत्रिका तंत्र को सक्रिय करती है ! कपालभाति प्राणायाम एक कुशल और प्रभावी योगिक अभ्यास है ! आज हम benefits of kapalbhati in Hindi नामक विषय पर बात करेंगे ! जो किसी व्यक्ति को शरीर को ऑक्सीजन देने में मदद करता है। यह एक प्रकार का प्राणायाम है जो व्यक्ति को विभिन्न बीमारियों से छुटकारा दिलाता है, विशेष रूप से मानसिक और मनोवैज्ञानिक समस्याओं का इलाज…

Continue Reading Benefits of kapalbhati in hindi कपालभाति प्राणायाम के फायदे और करने का तरीका

Triphala churn ke fayde त्रिफला चूर्ण के बेहतरीन 15 फायदे

त्रिफला तीन फलों या जड़ी बूटियों आंवला, बहेड़ा और हरड का एक संयोजन है ! आयुर्वेद में इसे त्रिदोष रसायण (Triphala churn ke fayde) के रूप में जाना जाता है ! अर्थात् एक चिकित्सीय एजेंट जो तीनों दोषों- कप, वात और पित्त को संतुलित करता है ! यह विटामिन सी और एंटीऑक्सिडेंट का एक समृद्ध स्रोत है ! जो रोग प्रतिरोधक क्षमता को उन्नत बनाने में मदद करता है ! सुबह खाली पेट त्रिफला की खुराक लेना इसके डिटॉक्सिफाइंग गुण के कारण आंतरिक सफाई के लिए फायदेमंद हो सकता है ! त्रिफला चूर्ण वजन घटाने में भी मदद करता है ! इसमे एंटीऑक्सिडेंट होने के कारण कुछ हृदय रोगों से सुरक्षा भी प्रदान करती है ! त्रिफला चूर्ण जब दूध के साथ लिया जाता है…

Continue Reading Triphala churn ke fayde त्रिफला चूर्ण के बेहतरीन 15 फायदे