Asthakind syrup uses in Hindi आस्थाकाइंड सिरप के उपयोग खुराक नुकसान की सम्पूर्ण जानकारी

Asthakind syrup uses in Hindi आस्थाकाइंड सिरप के उपयोग खुराक नुकसान की सम्पूर्ण जानकारी

आस्थाकाइंड सिरप 100 मिली उस दवा के वर्ग से संबंधित है ! जिसे ‘एक्सपेक्टरेंट’ कहा जाता है ! Asthakind syrup uses in Hindi का इस्तेमाल मुख्य रूप से बलगम से जुड़ी खांसी के इलाज के लिए किया जाता है ! खाँसी (सूखी या उत्पादक) वायुमार्ग में जलन एलर्जी, बलगम या रुकावट को साफ करने का शरीर का एक तरीका है !

खांसी दो प्रकार की होती है, सूखी खांसी और बलगम वाली खांसी ! सूखी खाँसी का मतलब है कि यह किसी भी तरह के जहरीले या गाढ़े बलगम का उत्पादन नहीं करती है ! जबकि बलगम वाली खाँसी का मतलब है कि आपके वायुमार्ग को साफ करने में मदद करने के लिए बलगम या थूक का उत्पादन होता है !

आस्थाकाइंड सिरप तीन दवाओं का एक संयोजन है ! जैसे गुअइफ़ेनेसिन (एक्सपेक्टरेंट), टरबुटालाइन (ब्रोन्कोडायलेटर) और ब्रोमहेक्सिन (म्यूकोलिटिक एजेंट या कफ थिनर) ! गुइफेनेसिन एक्सपेक्टोरेंट्स वायुमार्ग में तरल पदार्थ की मात्रा बढ़ाकर, बलगम की चिपचिपाहट को कम करके वायुमार्ग से इसे हटाने में मदद करता है !

टरबुटालाइन ब्रोन्कोडायलेटर्स के वर्ग से संबंधित है जो मांसपेशियों को आराम देता है ! और वायुमार्ग को चौड़ा करता है ! जिससे सांस लेना आसान हो जाता है ! ब्रोमहेक्सिन म्यूकोलिटिक एजेंट (खांसी/थूक को पतला करने वाली) की श्रेणी से संबंधित है !

जो फेफड़ों, श्वासनली और नाक में कफ (बलगम) को पतला और ढीला करने का काम करता है ! इस प्रकार, यह खांसी को ठीक करने में मदद करता है !

आस्थाकाइंड सिरप का इस्तेमाल अपने डॉक्टर की सलाह के अनुसार करें !

इसे भी पढ़ें: डोलोफ़्रेश टैबलेट के लाभ

आस्थाकाइंड सिरप क्या है What is Asthakind syrup in Hindi

यदि आप गर्भवती हैं या स्तनपान कराती हैं, तो यह सलाह दी जाती है ! कि आस्थकाइंड सिरप का उपयोग करने से पहले अपने डॉक्टर को सूचित करें ! यदि आपके पास दौरे पड़ने का इतिहास है या दौरे से पीड़ित हैं ! तो कृपया आस्थकाइंड सिरप लेने से पहले अपने डॉक्टर को सूचित करें !

क्योंकि इससे बार-बार दौरे पड़ने का खतरा बढ़ सकता है ! अगर आपको डायबिटीज है, तो आस्थकाइंड सिरप लेते समय ब्लड शुगर के स्तर पर नियमित निगरानी रखने की सलाह दी जाती है !

यदि आपको मधुमेह, दौरे, उच्च रक्तचाप, अतिसक्रिय थायरॉयड, पेट के अल्सर, फेनिलकेटोनुरिया (एक जन्मजात विकलांगता जो शरीर में अमीनो एसिड, फेनिलएलनिन के संचय का कारण बनती है) !

किडनी, लीवर या हृदय की समस्याएं हैं ! तो कृपया आस्थकाइंड सिरप लेने से पहले अपने डॉक्टर को सूचित करें !

इसके सेवन से कुछ लोगों को मतली, उल्टी, उनींदापन, सिरदर्द, चक्कर आना, त्वचा पर लाल चकत्ते !

कंपकंपी, पेट खराब और तेज़ दिल की धड़कन का अनुभव हो सकता है ! आस्थाकाइंड सिरप के इन दुष्प्रभावों में से अधिकांश को चिकित्सकीय ध्यान देने की आवश्यकता नहीं होती है !

समय के साथ धीरे-धीरे ठीक हो जाते हैं ! हालांकि, यदि दुष्प्रभाव बने रहते हैं या बिगड़ जाते हैं, तो कृपया अपने चिकित्सक से परामर्श करें !

आस्थाकाइंड सिरप कम्पोजीशन

आस्थाकाइंड सिरप में Guaifenesin (50 mg/5 ml) + Terbutaline (1.25 mg/5 ml) + Bromhexine (2 mg/5 ml) सक्रिय सामग्री शामिल हैं ! Asthakind syrup uses in Hindi सीरप मैनकाइंड फार्मास्युटिकल्स लिमिटेड द्वारा निर्मित की जाती है !

आस्थाकाइंड सिरप का उपयोग और लाभ Asthakind syrup uses in Hindi

ब्रोंकोस्पज़म ब्रोन्कियल मांसपेशियों का संकुचन है जिसके परिणामस्वरूप ब्रांकाई का संकुचन होता है ! इसके कारण फेफड़ों में हवा का प्रवाह कम हो सकता है ! आस्थाकाइंड एक्सपेक्टोरेंट कभी-कभी ब्रोन्कियल अस्थमा, क्रोनिक ब्रोंकाइटिस में घरघराहट ! सांस की तकलीफ, सीने में जकड़न, सांस लेने में तकलीफ, खांसी आदि !

जैसे ब्रोन्कोस्पास्म के लक्षणों से राहत देने के लिए इस्तेमाल किया जाता है ! 2 वर्ष की आयु के बच्चों में, यह दवा ब्रोन्कियल अस्थमा, क्रोनिक ब्रोंकाइटिस, ऊपरी श्वसन पथ के संक्रमण (यूआरटीआई) आदि जैसी स्थितियों का इलाज करती है !

  • दमा
  • सीओपीडी
  • ब्रोंकाइटिस
  • खाँसी
  • सीने में जकड़न

आस्थाकाइंड सिरप का उपयोग कब नहीं करें When not use Asthakind syrup in Hindi

अगर आपको इससे पहले कभी एलर्जी हुई है तो ऐस्थैकाइंड एक्सपेक्टोरेंट संयोजन का उपयोग करने से बचें ! और यदि आपको गंभीर एलर्जी प्रतिक्रियाओं जैसे कि त्वचा पर लाल चकत्ते, खुजली/सूजन (विशेष रूप से चेहरे/जीभ/गले की) ! चक्कर आना, सांस लेने में कठिनाई आदि के लक्षण दिखाई दें ! तो तत्काल चिकित्सा व्यवस्था की तलाश करें !

आस्थाकाइंड सिरप के नुकसान Asthakind syrup side effect in Hindi

आस्थाकाइंड एक्सपेक्टोरेंट के लिए प्रमुख और मामूली दुष्प्रभाव निम्नलिखित हैं ! Asthakind syrup uses in Hindi

  • दस्त
  • चक्कर आना
  • सिरदर्द
  • उलटी अथवा मितली
  • त्वचा के लाल चकत्ते
  • पेट दर्द
  • सांस लेने में कष्ट
  • पसीना आना
  • मांसपेशियों की जकड़न
  • झुनझुनी
  • धड़कन
  • खाँसी
  • खुजली
  • तंद्रा

आस्थाकाइंड सिरप की खुराक Asthakind syrup doses in Hindi

आस्थाकाइंड एक्स्पेक्टोरान्ट की निर्धारित खुराक 5ml. दिन में दो बार है ! किसी छूती हुई खुराक के लिए यदि अगली खुराक का समय हो गया है ! तो खुराक को दोगुना न करें ! आस्थाकाइंड एक्सपेक्टोरेंट की अधिक खुराक लेने के मामले में ! तुरंत नजदीकी आपातकालीन चिकित्सा विभाग में पहुंचें या डॉक्टर से संपर्क करें !

आस्थाकाइंड सिरप का अन्य दवाओं के साथ इंटरएक्शन

सभी दवाएं एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति के लिए अलग तरह से परस्पर क्रिया करती हैं ! कोई भी दवा शुरू करने से पहले आपको अपने डॉक्टर के साथ सभी संभावित इंटरैक्शन की जांच करनी चाहिए ! Asthakind syrup uses in Hindi

  • एस्सिटालोप्राम
  • प्रोप्रानोलोल
  • फरुसेमिड
  • एंटीबायोटिक दवाऐ
  • क्लोज़ापाइन
  • कार्वेडिलोल
आस्थाकाइंड सिरप का रोग के साथ इंटरएक्शन Asthakind syrup interaction in Hindi

दिल के रोग:
आस्थाकाइंड एक्स्पेक्टोरान्ट का उपयोग हृदय गति में वृद्धि और रक्तचाप में बदलाव के साथ जुड़ा हुआ है ! इसलिए हृदय रोग के सक्रिय या ऐतिहासिक मामले वाले रोगियों में सावधानी बरतनी चाहिए !
मधुमेह:
आस्थाकाइंड एक्स्पेक्टोरान्ट को लेते समय रक्त शर्करा के स्तर में मामूली वृद्धि हो सकती है ! इसलिए, यदि रोगी मधुमेह का रोगी है तो सावधानी बरतनी चाहिए ! और शुगर के स्तर की नियमित निगरानी की आवश्यकता होती है !
भ्रम:
आस्थाकाइंड एक्स्पेक्टोरान्ट भ्रम और मतिभ्रम जैसे बिगड़ते प्रभाव पैदा कर सकता है ! इसलिए सावधानी बरती जानी चाहिए और वैकल्पिक उपचार का विकल्प चुना जा सकता है !
इलेक्ट्रोलाइट असंतुलन:
अस्थकाइंड एक्स्पेक्टोरान्ट कुछ रोगियों में असंतुलित पोटेशियम के स्तर या इलेक्ट्रोलाइट्स के साथ रक्त में पोटेशियम के स्तर (हाइपोकैलेमिया) को कम कर सकता है ! इसलिए, मौखिक रूप से प्रशासन करते समय हमेशा सावधानी बरतें !

आस्थाकाइंड सिरप की कीमत Asthakind syrup price in Hindi

आस्थाकाइंड सिरप Asthakind syrup uses in Hindi के 60 मिली एक्सपेक्टोरेंट की कीमत ₹58.39 है ! इसे मैनकाइंड फार्मास्युटिकल्स लिमिटेड द्वारा निर्मित किया जाता है !

आस्थाकाइंड सिरप उपयोग सम्बन्धित सावधानी Asthakind syrup related precautions in Hindi

अपने चिकित्सक द्वारा निर्देशित आस्थाकाइंड एक्सपेक्टोरेंट का प्रबंध करें ! आपकी स्थिति के अनुसार निर्धारित खुराक, आवृत्ति और ग्रहण की अवधि विशिष्ट है ! निर्धारित मात्रा से अधिक सेवन न करें या इस दवा को अन्य लोगों के साथ साझा न करें ! सुनिश्चित करें कि उपचार का कोर्स पूरा हो गया है ! इसे लेने से पहले अपने डॉक्टर को अपने दिल और गुर्दे की स्थिति के बारे में बताएं !

आस्थाकाइंड सिरप उपयोग सम्बन्धित प्रश्नावली FAQs in Hindi
Q1. इस दवा का असर होने में कितना समय लगता है?

Ans. आस्थाकाइंड एक्सपेक्टोरेंट लेने के 30 मिनट के भीतर अपनी कार्रवाई दिखाने लगता है ! Asthakind syrup uses in Hindi

Q2. इस दवा का प्रभाव कितने समय तक रहता है?

Ans. आस्थाकाइंड एक्सपेक्टोरेंट के शरीर में कितने समय तक सक्रिय रहने की अवधि नैदानिक ​​रूप से स्थापित नहीं है !

Q3. क्या इस दवा को लेते समय शराब का सेवन करना सुरक्षित है?

Ans. शराब के साथ इंटरेक्शन अज्ञात है। खपत से पहले अपने चिकित्सक से परामर्श करना उचित है।

Q4. क्या यह दवा से लत लगती है?

Ans. आस्थाकाइंड एक्सपेक्टोरेंट की कोई लत लगने की प्रवृत्ति नहीं बताई गई।

Q5. क्या यह दवा गर्भावस्था के दौरान ली जा सकती है?

Ans. शिशु पर प्रतिकूल प्रभाव के जोखिम के कारण गर्भावस्था के दौरान आस्थाकाइंड एक्स्पेक्टोरान्ट से बचना चाहिए। इसलिए आपका चिकित्सक आपकी नैदानिक ​​स्थिति के आधार पर उसी चिकित्सीय प्रभाव के साथ एक सुरक्षित विकल्प की सलाह दे सकता है।

Q6. क्या यह दवा स्तनपान के दौरान ली जा सकती है?

Ans. यह ज्ञात नहीं है कि आस्थाकाइंड एक्सपेक्टोरेंट स्तन के दूध में गुजरता है या नहीं। इसलिए स्तनपान कराने वाली माताओं में इसका उपयोग नहीं करना चाहिए।

One thought on “Asthakind syrup uses in Hindi आस्थाकाइंड सिरप के उपयोग खुराक नुकसान की सम्पूर्ण जानकारी

  1. With havin so much content and articles do you
    ever run into any problems of plagorism or copyright infringement?
    My blog has a lot of completely unique content I’ve either
    created myself or outsourced but it seems a lot of it is popping it up all over the web without
    my permission. Do you know any techniques to help
    prevent content from being stolen? I’d genuinely appreciate it.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *