पहला राउंड कितने समय तक चलना चाहिए, शीघ्रपतन के कारण और उपाय

पहला राउंड कितने समय तक चलना चाहिए, शीघ्रपतन के कारण और उपाय

कामुकता की बात करें तो कई मिथक और गलत धारणाएं समाज में फैली हैं ! जैसे कि सेक्स के दौरान पुरुषों को संभोग तक पहुंचने में कितना समय लगता है ! अथवा पहला राउंड कितने समय तक चलना चाहिए इत्यादि ! जबकि यह कई कारकों पर निर्भर करता है ! और समय-समय पर भिन्न हो सकता है !

एक आदमी को संभोग सुख और स्खलन तक पहुंचने में औसतन 5 से 8 मिनट लगते हैं ! लेकिन परम आनंद की समग्र सीमा एक मिनट से कम होती है !

क्या और कितना अपेक्षाकृत जल्दी संभोग एक आदमी, उसके रिश्ते और यौन संतुष्टि को प्रभावित करता है ! इसमें भी कई अंतर हैं !

लगभग 4% पुरुषों का लगभग कोई नियंत्रण नहीं होता है जब वे स्खलन करते हैं ! वे तो हमेशा (या लगभग हमेशा) जल्दी स्खलित हो जाते हैं ! यदि ये शुरुआती ओर्गास्म व्यथित हो जाते हैं, तो समस्या का चिकित्सकीय रूप से शीघ्रपतन के रूप में निदान किया जाता है ! वैसे इसके विभिन्न दवा उपचार संभव हैं !

इसे भी पढ़ें: नाईट राइडर टैबलेट के फायदे

जल्दी स्खलित होने के कारण

शीघ्रपतन के कारणों पर शायद ही शोध होते हैं ! कुछ विशेषज्ञों का मानना है कि यह जैविक कारकों के कारण है ! जैसे कि एक अति संवेदनशील लिंग या हार्मोन और नसों में परिवर्तन ! इस पोस्ट में आप जानेंगे कि पहला राउंड कितने समय तक चलना चाहिए!

दूसरों को लगता है कि इसका कारण भावनात्मक कारकों जैसे रिश्ते की समस्याओं या विफलता के डर में पाया जाना है ! वैसे जैविक और मनोवैज्ञानिक कारक दोनों जिम्मेदार हो सकते हैं ! और एक दूसरे को प्रभावित कर सकते हैं !

कुछ पुरुषों को शीघ्रपतन से परेशानी प्रारम्भ में होती है ! अन्य इसे जीवन में बाद में विकसित करते हैं ! इसे शीघ्रपतन के रूप में संदर्भित किया जा सकता है !

स्खलन समय को कैसे मापा जाता है (पहला राउंड कितने समय तक चलना चाहिए)

सेक्स का औसत समय आम तौर पर वास्तविक समय का ही अधिक अनुमान होता है ! संभोग की औसत अवधि को कम से कम तीन अलग-अलग प्रक्रिआओं के आधार पर मापा जाता है ! पुरुषों के लिए योनि में प्रवेश करने से लेकर स्खलन तक के समय के रूप में लिया जाता है ! फोरप्ले में शामिल समय का सदुपयोग न करें ! आदर्श रूप से स्टॉप-वॉच या कलाई घड़ी का उपयोग करें ! उदाहरण के लिए यदि आप 3 मिनट और 14 सेकंड के भीतर स्खलन करते हैं तो अपने औसत समय को 3 मिनट के रूप मे गिने ! लेकिन यदि यह 15 सेकंड या अधिक है तो औसत समय को 3 मिनट और 30 सेकंड के रूप में उपयोग गिने ! इसी प्रकार यदि आपका समय 3 मिनट और 44 सेकंड है तो औसत का उपयोग 3 मिनट और 30 सेकंड के रूप में करें ! और यदि 45 सेकंड या अधिक समय है तो 4 मिनट का उपयोग करें !

आपके सम्भोग टाइम को क्या क्या प्रभावित करता है

उम्र

आपकी उम्र आपके यौन जीवन को प्रभावित कर सकती है ! साल 2008 में 18 से 93 वर्ष की आयु के 2,341 लोगों के एक अध्ययन में पाया गया कि उम्र के साथ कामेच्छा में कमी आई है ! पुरुषों ने महिलाओं की तुलना में अधिक लगातार और मजबूत यौन इच्छाओं की सूचना दी !

हार्मोन

रजोनिवृत्ति एक महिला की उत्तेजित होने की क्षमता को भी प्रभावित कर सकती है ! हार्मोन का स्तर गिर जाता है, और संभोग के दौरान योनि का सूखापन और दर्द जैसे दुष्प्रभाव हो सकते हैं ! (हालांकि ये चीजें रजोनिवृत्ति से पहले भी हो सकती हैं) ! इस पोस्ट में आप जानेंगे कि पहला राउंड कितने समय तक चलना चाहिए !

नपुंसकता

इरेक्टाइल डिसफंक्शन (ईडी) भी उम्र के साथ तेजी से प्रभाव दिखाता है ! लगभग 40 प्रतिशत पुरुष 40 वर्ष की आयु तक ED का अनुभव करते हैं ! और 70 वर्ष की आयु तक यह संख्या लगभग 70 प्रतिशत तक बढ़ जाती है ! ईडी के इलाज के लिए दवा बियाग्रा आमतौर पर निर्धारित की जाती है !

शीघ्रपतन

समय से पहले स्खलन (पीई) जैसी यौन अक्षमताएं पुरुषों को योजनाबद्ध तरीके से चरमोत्कर्ष पर ले जा सकती हैं ! और शीघ्रपतन द्वारा सम्भोग को कम कर सकती हैं ! पीई बहुत आम है, जो 18 से 59 वर्ष की आयु के 3 में से लगभग 1 पुरुष को प्रभावित करता है ! यह मनोवैज्ञानिक या शारीरिक कारकों का परिणाम हो सकता है ! और यह अस्थायी या दीर्घकालिक समस्या हो सकती है !

बिलम्बित स्खलन

भी सेक्स की अवधि को प्रभावित कर सकता है ! जिन लोगों की यह स्थिति है, उन्हें कामोत्तेजना तक पहुँचने के लिए 30 मिनट तक यौन उत्तेजना की आवश्यकता हो सकती है ! और कुछ तो स्खलित तक नहीं पहुँच सकते है ! यह स्थिति एक अनिश्चित यौन स्थिति या साथी से संबंधित हो सकती है ! या यह एक अंतर्निहित स्वास्थ्य स्थिति का संकेत हो सकता है !

टाइम बढ़ाने के उपाय (पहला राउंड कितने समय तक चलना चाहिए)

व्यायाम – कार्डियो और भारोत्तोलन सम्भोग प्रक्रिया के विजेता होते हैं ! बेहतर नियंत्रण के लिए पेल्विक फ्लोर की मांसपेशियों पर थोड़ा ध्यान केंद्रित करने के लिए व्यायाम करें ! समग्र स्वास्थ्य भी बेहतर यौन प्रदर्शन की ओर सूचित करता है !
उचित आहार – उचित आहार भी बेहतर प्रदर्शन के लिए उतना ही जरुरी है जितना कि व्यायाम !
आराम करें – तनाव यौन प्रदर्शन का एक और अवरोधक है ! कहना जितना आसान है, करना उतना ही आसान ! लेकिन आराम करना सीखिए, अपना दिमाग खाली कीजिए और पल में बने रहने की कोशिश कीजिए !
फोरप्ले बढ़ाएं – समग्र आनंद बिल्ड अप, फोरप्ले में है ! सुनिश्चित करें कि हर कोई सहज है और कुछ अतिरिक्त मिनट फोरप्ले में लगाएं ! आखिरकार, यह महिलाओं की चाहत का एक बड़ा हिस्सा है !
असंवेदनशील फार्मास्यूटिकल्स गोलियां, क्रीम, विशेष कंडोम, यहां तक ​​​​कि मोटे कंडोम इत्यादि ! 21वीं सदी में मदद के लिए सभी उपलब्ध हैं !
विशेषज्ञों के साथ उचित परामर्श – यदि सब कुछ विफल रहता है, तो किसी विशेषज्ञ से सलाह लें ! ऐसा करना आपके लिए लाभदायक हो सकता है !

डॉक्टर को कब दिखाए

अपने स्वास्थ्य देखभाल प्रदाता से बात करें ! यदि आप अधिकांश यौन सम्बन्धो के दौरान अपनी इच्छा के बिपरीत जल्दी स्खलन करते हैं ! यौन स्वास्थ्य संबंधी चिंताओं पर चर्चा करने में शर्मिंदगी महसूस करना आम बात है ! लेकिन इसे अपने प्रदाता से बात करने से न रोकें ! शीघ्रपतन सामान्य और उपचार योग्य है !

देखभाल प्रदाता के साथ बातचीत से चिंताओं को कम करने में मदद मिल सकती है ! उदाहरण के लिए, यह सुनकर आप आश्वस्त हो सकते है ! कि समय-समय पर शीघ्रपतन का अनुभव करना सामान्य है ! यह जानने में भी मदद मिल सकती है कि संभोग की शुरुआत से स्खलन तक का औसत समय लगभग पांच मिनट है ! अब तक आपने जाना कि पहला राउंड कितने समय तक चलना चाहिए !

इजाकुलेशन कैसे कार्य करता है (पहला राउंड कितने समय तक चलना चाहिए)

स्खलन लिंग के माध्यम से अचानक, आनंददायक वीर्य का निकलना है ! यह आपके मस्तिष्क (आपका केंद्रीय तंत्रिका तंत्र) द्वारा नियंत्रित होता है ! जब आप यौन रूप से उत्तेजित होते हैं, तो संकेत आपकी रीढ़ की हड्डी से आपके मस्तिष्क तक भेजे जाते हैं ! जब आप उत्तेजना के एक निश्चित स्तर तक पहुँचते हैं ! तो आपका मस्तिष्क आपके प्रजनन अंगों को वीर्य लिंग (स्खलन) के माध्यम से बाहर निकल जाने का संकेत करता है !

स्खलन के दो चरण होते हैं: उत्सर्जन और निष्कासन !

चरण 1: उत्सर्जन
उत्सर्जन तब होता है जब शुक्राणु अंडकोष से प्रोस्टेट में चले जाते हैं ! वहां यह वीर्य द्रव के साथ मिलकर वीर्य बनाता है ! वासा डिफेरेंटिया वे नलिकाएं हैं जो शुक्राणु को अंडकोष से प्रोस्टेट के माध्यम से लिंग के आधार तक ले जाने में मदद करती हैं ! (जब आप इन ट्यूबों में से केवल एक के बारे में बात कर रहे हैं, तो इसे वास डिफरेंस कहा जाता है !)
चरण 2: निष्कासन
निष्कासन तब होता है जब लिंग के आधार पर मांसपेशियां सिकुड़ जाती हैं ! इससे वीर्य लिंग से बाहर निकल जाता है ! अक्सर, स्खलन और चरमोत्कर्ष (चरमोत्कर्ष) एक ही समय में होता है !

निष्कर्ष

हमें उम्मीद है कि अब आप जान चुके होंगे कि पहला राउंड कितने समय तक चलना चाहिए !

knight rider tablet uses in hindi नाइट राइडर टैबलेट का उपयोग कीमत खुराक नुकसान Previous post knight rider tablet uses in hindi नाइट राइडर टैबलेट का उपयोग कीमत खुराक
Big jack oil uses in hindi बिग जैक तेल की कीमत उपयोग लाभ और नुकसान Next post Big jack oil uses in hindi बिग जैक तेल की कीमत उपयोग लाभ और नुकसान

चिकित्सा की स्थिति, डाइट, उपचार, निदान और घरेलू उपचार के बारे में उपलब्ध जानकारी, केवल सामान्य रूप से पढ़ने के लिए है ! उपर्युक्त लेख हमेशा त्रुटि रहित, पूर्ण या अद्यतित नहीं भी हो सकता है ! हालाँकि कोई त्रुटि ना हो इसका पूरा रिव्यु लिया जाता है ! Fit & Well Health का उद्देश्य किसी चिकित्सक से परामर्श को प्रतिस्थापित करना नहीं है ! कोई भी स्वास्थ्य समस्या होने पर किसी डॉक्टर से उपचार अवश्य करवायें !

Social Link