Giloy ke fayade गिलोय के फायदे और औषधीय गुण

You are currently viewing Giloy ke fayade गिलोय के फायदे और औषधीय गुण

सदियों से हम प्रकृति द्वारा निर्धारित संसाधनों के साथ अपने जीवन को स्वस्थ बनाने की कोशिश कर रहे हैं ! इन जड़ी बूटियों में से एक गिलोय भी है ! जिसका उपयोग न केवल आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों में किया जाता है ! बल्कि गिलोय का उपयोग आज की दवाओं में भी किया जा रहा है ! इसका उपयोग आमतौर पर मियादी बुखार के इलाज, पाचनशक्ति बढ़ाने और और रोग प्रतिरोधक क्षमता आदि के लिए किया जाता है ! हालांकि गिलोय का तना सबसे उपयोगी होता है ! हम इसकी जड़ का भी उपयोग कर सकते हैं ! तो आइए अब हम प्राचीन काल से इसके उपयोग और Giloy ke fayade पर चर्चा करते हैं !

  1. रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाए- (giloy ke fayade in hindi) :- गिलोय को औषधी प्रभाव के लिए खासतौर पर जाना जाता हैं। गिलोय को अमृता (Amrita) के नाम से भी जाना जाता है। गिलोय के लाभ (giloy ke fayde in hindi) कई तरह से प्राप्त किए जा सकते हैं ! जैसे कि गिलोय का काढ़ा, गिलोय का जूस, गिलोय का पाउडर, गिलोय कैप्सूल इत्यादि ! गिलोय विटामिन, मिनरल्स और एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होते हैं ! गिलोय के औषधीय गुण होने के साथ- साथ त्वचा के लिए भी कई फायदे मौजूद हैं ! यह कार्बोहाइड्रेट, स्टेरॉयड, फ्लेवोनोइड्स, लिग्नन्स और एल्कलॉइड्स से भरपूर है !गिलोय के फायदे (giloy ke fayde) में सबसे पॉपुलर फायदा इम्यूनिटी बढ़ाने का है ! यहां तक की जिन लोगों की इम्यूनिटी कमज़ोर होती है ! उन लोगों को गिलोय के जूस के फायदे (Giloy juice benefits in hindi) लेने के लिए कह सकते है !
  2. स्वसन संबंधित बीमारी में लाभदायक- गिलोय सांस की बीमारी के लिए भी विशेष फायदेमंद होता है ! (Benefits Of Giloy May Fights Respiratory Problems Effect In Hindi) !स्वसन संबंधित बीमारी से राहत दिलाने में भी यह अत्यधिक प्रभावशाली होती है ! सांस में होने वाली परेशानी जैसे कि खांसी, जुकाम इत्यादि में गिलोय के गुण मददगार साबित हो सकते हैं !
  3. डाइजेशन सुधार में लाभदायक- (Giloy ke fayade For Healthy Digestion In Hindi)
    अगर आप डाइजेशन से जुड़ी परेशानी से ग्रसित हैं ! तो गिलोय आपके काम आ सकते हैं ! गिलोय का उपयोग (Giloy uses in hindi) पाचन शक्ति को बढ़ाने के लिए किया जा सकता है ! ऐसा कहा जाता है कि गिलोय पाउडर को आंवला के साथ खाने से डाइजेशन से जुड़ी परेशानी से राहत मिलने में मदद मिल सकता है ! इसके अलावा गिलोय जूस (giloy juice benefits in hindi) का सेवन लस्सी के साथ भी कर सकते हैं ! कब्ज से राहत पाने के लिए गिलोय पावडर का सेवन गुड़ के साथ भी कर सकते हैं ! यह एक तरह का घरेलू उपाय है !
  4. बुखार में विशेष फायदेमंद- (Giloy Benefits May Help In Fever In Hindi)
    गिलोय (benefits of giloy in hindi) बुखार कम करने में भी मदद कर सकता हैं ! यह मलेरिया, डेंगू, स्वाइन फ्लू मियादी बुखार इत्यादि बुखार में बहुत लाभदायक है !
  5. तनाव कम करें- (Giloy Reduces Stress In Hindi) दिमाग की सेहत अच्छी बनाए रखने के लिए यह अत्यधिक प्रभावशाली होता है ! गिलोय के गुण तनाव कम करने में मदद करते हैं ! और शांती बनाए रखने में लाभदायक होते हैं ! दिमाग की सेहत बनाए रखने के लिए गिलोय का उपयोग (Giloy uses in hindi) करने से पहले डॉक्टर से परामर्श लेना उपयुक्त रहता है !
  1. गठिया रोग में लाभदायक- गिलोय गठिया की समस्या को कम करने में मदद कर सकते हैं ! बढ़ती उम्र के साथ गठिया और जोड़ो के दर्द बढ़ जाते हैं ! आयुर्वेद के अनुसार घी के साथ गिलोय लेने से गठिया में आराम मिल सकता है ! गिलोय के गुण सूजन कम कर सकते हैं जिससे गठिया में आराम मिल सकता है !

गठिया के दर्द से राहत पाने के लिए गिलोय और अदरक का सेवन भी किया जाना चाहिए ! गिलोय और अदरक का सेवन करने से गठिया होने के आसार कम हो सकते हैं ! गिलोय की जड़ दूध में उबालकर पीने से भी गठिया के दर्द में आराम मिल सकता है ! गिलोय को घरेलू उपाय के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है !

  1. डायबिटीज में लाभदायक- गिलोय (Giloy ke fayde) डायबिटीज के लिए अत्यधिक लाभ दायक हैं ! डायबिटीज से गुजर रहे लोगों की डाइट में गिलोय को शामिल करना लाभदायक हो सकता है ! गिलोय (Giloy ke fayde in hindi) ब्लड शुगर लेवल सामान्य बनाए रखने में मदद करते हैं !डायबिटीज से गुजर रहे लोग रोजाना गिलोय का सेवन कर सकते हैं ! लेकिन इसके बावजूद डॉक्टर से सलाह जरुर लें !
  1. गिलोय का उपयोग कैसे करें- (Giloy Uses In Hindi) गिलोय के फायदे (benefits of giloy in hindi) जानने के बाद जरुरी है ! कि आप अच्छी तरह जाने कि गिलोय का उपयोग (giloy uses in hindi) कैसे किया जाता है ! गिलोय का उपयोग सही तरीके से करने से ही गिलोय के लाभ (giloy ke fayde in hindi) मिल सकते हैं ! आपको बता दें कि गिलोय को डाइट में शामिल करना बेहद आसान है ! गिलोय का उपयोग (giloy uses in hindi) आप बहुत आसानी से कई तरीकों से कर सकते हैं ! गिलोय के उपयोग से जुड़ी जानकारी निम्नलिखित हैं !
  2. गिलोय चूर्ण- एक चम्मच गिलोय पाउडर पानी में डालकर अच्छी तरह से मिलाकर पी सकते हैं !
  3. गिलोय का जूस- अगर आप Markets से गिलोय जूस (Giloy juice benefits in Hindi) ला रहे हैं ! तो एक गिलास पानी में 1-2 चम्मच गिलोय जूस मिलाएं और सेवन करें !
  1. गिलोय का काढ़ा- (How To Make Giloy Kadha At Home In Hindi)
    गिलोय (giloy ke fayde) खासतौर पर इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए जाने जाते हैं ! और आज के समय में इम्यूनिटी स्ट्रोंग बनाने पर खास तोर पर ध्यान दिया जाना चाहिए ! इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए प्राकृतिक चीजों का इस्तेमाल करना बेहतर होता है ! गिलोय से काढ़ा बनाने की रेसिपी से जुड़ी जानकारी निम्नलिखित हैं !
  1. गिलोय का काढ़ा बनाने की रेसिपी- यह रेसिपी सबसे सिंपल और बहुत आसान है
  2. सबसे पहले गिलोय की जड़ लें और इनको अच्छी तरह बीच में से काट लें लेकिन अलग ना करें !
  3. अब 2 कप पानी लें और गिलोय की जड़ें डाल दें और अच्छी तरह से घोले !
  4. पानी को उबलने दें। जब 1 कप पानी बच जाए तब गैस बंद कर दें !
  5. 1 कप पानी बचने के बाद पानी अच्छी तरह छान लें !
  6. गिलयो का काढ़ा सामान्य होने के बाद इसका अच्छी तरह सेवन कर लें !
  7. आप दिन में 1-2 बार गिलोय का काढ़ा बनाकर पी सकते हैं ! और giloy ke fayade प्राप्त कर सकते हैं !
गिलोय का सेवन किसे नहीं करना चाहिए

यदि आप गर्भवती हैं या स्तनपान कर रही हैं तो गिलोय से बचना हमेशा बेहतर हो सकता है ! यह ज्ञात नहीं है कि इस अवधि के दौरान गिलोय का शरीर पर कोई हानिकारक प्रभाव पड़ता है ! या नहीं, लेकिन हमेशा सुरक्षित पक्ष पर रहना बुद्धिमानी है ! जैसा कि पहले उल्लेख किया गया है लंबे समय तक गिलोय के उपयोग के प्रतिकूल प्रभावों को अभी तक ज्ञात नहीं किया गया है ! साथ ही अगर इन्सुलिन लेवल नॉर्मल है तब भी गिलोय के सेवन से बचना चाहिए ! किसी सर्जरी से पहले भी गिलोय के सेवन से बचें इससे हाइपोटेंशन की समस्या हो सकती है !