Garcinia cambogia in Hindi गार्सिनिआ कम्बोगिआ का उपयोग फायदे और नुकसान

Garcinia cambogia in Hindi गार्सिनिआ कम्बोगिआ का उपयोग फायदे और नुकसान

गार्सिनिया कैंबोगिया, एक उष्णकटिबंधीय फल है ! Garcinia cambogia in Hindi जिसे मालाबार इमली के नाम से भी जाना जाता है ! यह एक लोकप्रिय वजन कम करने वाला पूरक आहार है ! ऐसा माना जाता हैं कि यह आपके शरीर की वसा बनाने की क्षमता को रोकता है ! और यह आपकी भूख पर ब्रेक लगाता है ! अतिरिक्त वजन घटाने से रक्त शर्करा और कोलेस्ट्रॉल के स्तर को भी नियंत्रित रखने में मदद मिल सकती है !

यह एक फल से प्राप्त होता है, जिसे गार्सिनिया गुम्मी-गुट्टा या मालाबार इमली भी कहा जाता है ! इस फल के छिलके में उच्च मात्रा में हाइड्रॉक्सीसिट्रिक एसिड (एचसीए) होता है ! जो कि इसके वजन घटाने के अधिकांश लाभों के लिए जिम्मेदार माना जाता है !

इस लेख से आप यह जानकारी प्राप्त कर सकते हैं कि क्या गार्सिनिया कैंबोगिया आपको वजन और पेट की चर्बी कम करने में मदद कर सकता है !

यदि आप कुछ पाउंड कम करने के लिए इस लोकप्रिय पूरक आहार गार्सिनिया कैंबोगिया लेने पर विचार कर रहे हैं ! तो आप ऐसा विचार करने वाले अकेले नहीं हैं !

संयुक्त राज्य अमेरिका में लगभग 21 प्रतिशत महिलाओं और 10 प्रतिशत पुरुषों ने इस पूरक का उपयोग अपने जीवन में कभी ना कभी वजन कम करने में मदद करने के लिए किया है !

गार्सिनिआ कम्बोगिआ क्या है What is garcinia combogia in Hindi

गार्सिनिया कैंबोगिया एक छोटा, कद्दू के आकार का, पीले या हरे रंग का फल है ! फल इतना खट्टा होता है कि इसे आम तौर पर ताजा नहीं खाया जाता है बल्कि खाना पकाने में इस्तेमाल किया जाता है !

फल के छिलके में उच्च मात्रा में हाइड्रॉक्सीसिट्रिक एसिड (एचसीए) होता है ! एक सक्रिय पदार्थ जिसमें कुछ वजन घटाने के गुण होते हैं ! पूरक में आम तौर पर 20-60% एचसीए होता है !

फिर भी, अध्ययनों से पता चलता है कि 50-60% एचसीए वाले लोग सबसे अधिक लाभ प्रदान कर सकते हैं ! यह पूरक गार्सिनिया कैंबोगिया से बनाया जाता है !

जो भारत और दक्षिण पूर्व एशिया में पाया जाने वाला एक फल देने वाला पेड़ है ! इस फल में हाइड्रोक्सीसिट्रिक एसिड (HCA) युक्त छिलका होता है !

Garcinia cambogia in Hindi नामक यौगिक को भूख को कम करने और शरीर में वसा को कम करने में मदद करने के लिए जाना जाता है !

गार्सिनिआ कम्बोगिआ कैसे कार्य करता है How to work garcinia combogia in Hindi

इस फल के छिलके में सक्रिय संघटक, हाइड्रॉक्सीसिट्रिक एसिड, या एचसीए, साइट्रेट लाइज़ नामक एक एंजाइम को अवरुद्ध करता है ! जिसका उपयोग आपका शरीर वसा बनाने के लिए करता है ! यह मस्तिष्क रासायनिक सेरोटोनिन के स्तर को भी बढ़ाता है !

जिससे आपको कम भूख लग सकती है ! जर्नल ऑफ ओबेसिटी में प्रकाशित एक समीक्षा में पाया गया कि गार्सिनिया कैंबोगिया लेने वाले लोगों ने इसे नहीं लेने वाले लोगों की तुलना में लगभग 2 पाउंड अधिक वजन कम किया ! Garcinia cambogia in Hindi

गर्सिनिआ कम्बोगिआ दो तरह से वजन घटाने में हेल्प करता है

Garcinia cambogia in Hindi द्वारा वजन घटाने के दो मुख्य तरीके हैं जिनसे माना जाता है कि गार्सिनिया कैंबोगिया वजन घटाने में सहायता करता है !

1- भूख को कम करना

कुछ मानव अध्ययनों में पाया गया है कि गार्सिनिया कैंबोगिया भूख को कम करता है ! और आपको पेट भरा हुआ महसूस होता है !

इसका तंत्र पूरी तरह से ज्ञात नहीं है, लेकिन चूहो के एक अध्ययन से पता चलता है कि गार्सिनिया कैंबोगिया में सक्रिय संघटक मस्तिष्क में सेरोटोनिन बढ़ा सकता है !

चूंकि सेरोटोनिन एक ज्ञात भूख दमनकारी है, सेरोटोनिन का उच्च रक्त स्तर आपकी भूख को कम कर सकता है !

2- वसा के उत्पादन को कम करता है

सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि गार्सिनिया कैंबोगिया रक्त वसा और नए फैटी एसिड के उत्पादन को प्रभावित करता है ! मानव और पशु अध्ययनों से पता चलता है कि यह आपके रक्त में वसा के उच्च स्तर को कम कर सकता है ! और आपके शरीर में ऑक्सीडेटिव तनाव को कम कर सकता है !

एक अध्ययन से यह भी पता चलता है कि यह अधिक वजन वाले लोगों में पेट की चर्बी के संचय को कम करने में विशेष रूप से प्रभावी हो सकता है !

एक अन्य अध्ययन में, मध्यम मोटे लोगों ने आठ सप्ताह तक रोजाना 2,800 मिलीग्राम गार्सिनिया कैंबोगिया लिया और बीमारी के लिए कई जोखिम वाले कारकों में काफी सुधार हुआ !

गर्सिनिआ कम्बोगिआ के उपयोग और फायदे Garcinia cambogia uses and benefits in Hindi

गार्सिनिया कैंबोगिया भूख को कम कर सकता है ! यह आपके शरीर में नए वसा के उत्पादन को भी रोकता है ! और अधिक वजन वाले लोगों में कोलेस्ट्रॉल के स्तर और रक्त ट्राइग्लिसराइड्स को भी कम करने में मदद कर सकता है ! पशु और टेस्ट-ट्यूब अध्ययनों से पता चलता है कि गार्सिनिया कैंबोगिया में कुछ मधुमेह विरोधी प्रभाव भी है ! गार्सिनिया कैंबोगिया के कुछ फायदे निम्नलिखित हैं !

  • इंसुलिन के स्तर में कमी
  • लेप्टिन के स्तर में कमी
  • सूजन को कम करना
  • रक्त शर्करा नियंत्रण में सुधार
  • इंसुलिन संवेदनशीलता में वृद्धि
  • मोटापा कम करना
  • कोलेस्ट्रॉल कम करना
  • कैंसर से बचाव
  • आर बी सी में बढ़ोत्तरी
    इसके अतिरिक्त, गार्सिनिया कैंबोगिया आपके पाचन तंत्र को बढ़ावा दे सकता है ! जानवरों के अध्ययन से पता चलता है कि यह पेट के अल्सर से बचाने में मदद करता है ! और आपके पाचन तंत्र की अंदरूनी परत को होने वाले नुकसान को कम करता है !
गर्सिनिआ कम्बोगिआ के नुकसान Side effect of garcinia combogia in Hindi

अधिकांश अध्ययनों का निष्कर्ष है कि अनुशंसित अधिकतम खुराक प्रति दिन 2,800 मिलीग्राम एचसीए स्वस्थ लोगों के लिए गार्सिनिया कैंबोगिया सुरक्षित है ! Garcinia cambogia in Hindi !

परन्तु इस बात का ध्यान देना आवश्यक है कि इसकी कोई गारंटी नहीं है कि आपके पूरक में एचसीए की वास्तविक सामग्री लेबल पर एचसीए सामग्री से मेल खाएगी ! इसलिए, एक प्रतिष्ठित निर्माता से खरीदना सुनिश्चित करें !

लोगों ने गार्सिनिया कैंबोगिया के उपयोग के कुछ दुष्प्रभावों की भी सूचित किया है जो निम्नलिखित हैं !

  • खराब पाचन
  • सिर दर्द
  • त्वचा के चकत्ते
  • अंडकोष की सूजन

जानवरों के अध्ययन से पता चलता है कि अनुशंसित खुराक से कहीं अधिक गार्सिनिया कैंबोगिया का सेवन वृषण शोष, या अंडकोष के सिकुड़ने का कारण बन सकता है ! चूहों में अध्ययन से पता चलता है कि यह शुक्राणु उत्पादन को भी प्रभावित कर सकता है !

एक ऐसी महिला की रिपोर्ट है जिसने अपनी एंटीडिप्रेसेंट दवाओं के साथ गार्सिनिया कैंबोगिया लेने के परिणामस्वरूप सेरोटोनिन विषाक्तता विकसित हुई थी ! Garcinia cambogia in Hindi

इसके अतिरिक्त, कई मामलों के अध्ययन से पता चलता है कि गार्सिनिया कैंबोगिया की अत्यधिक खुराक कुछ व्यक्तियों में जिगर की क्षति या यहां तक ​​​​कि जिगर की विफलता का कारण बन सकती है !

यदि आपकी कोई चिकित्सीय स्थिति है या आप कोई दवा ले रहे हैं, तो इस पूरक को लेने से पहले अपने चिकित्सक से परामर्श करें !

गर्सिनिआ कम्बोगिआ की अनुसंशित खुराक Doses of garcinia combogia in Hindi

कई स्वास्थ्य खाद्य भंडार और फार्मेसियों में गार्सिनिया कैंबोगिया की कई किस्में उपलब्ध हैं ! आप गार्सिनिया कैंबोगिया की एक अच्छी क्वालिटी का चुनाव कर सकते हैं जिसमें 50-60% एचसीए हो !

अनुशंसित खुराक हर ब्रांड में भिन्न हो सकते हैं ! इसे आम तौर पर, भोजन से 30-60 मिनट पहले, प्रति दिन तीन बार 500 मिलीग्राम लेने की सिफारिश की जाती है ! लेबल पर खुराक के निर्देशों का पालन करना हमेशा सर्वोत्तम होता है !

अध्ययनों के अनुसार एक बार में केवल 12 सप्ताह तक इन सप्लीमेंट्स को अनुसंशित किया है ! इसलिए, हर तीन महीने में कुछ हफ़्ते तक गैप करना एक अच्छा विचार हो सकता है !

गर्सिनिआ कम्बोगिआ की प्रतिकूल प्रतिक्रियाएं

लगभग 900 रोगियों से जुड़े पंद्रह नैदानिक ​​अध्ययनों ने सिरदर्द, चक्कर आना, शुष्क मुँह, और मतली और दस्त जैसी शिकायतों सहित सबसे आम प्रतिकूल प्रतिक्रियाओं के साथ बहुत हल्के प्रतिकूल प्रतिक्रियाओं का अनुभव किया ! Garcinia cambogia in Hindi

वजन घटाने के लिए हाइड्रोक्सीक्यूट आहार की खुराक को हेपेटोटॉक्सिसिटी के कारण 2009 में अमेरिकी बाजार से वापस ले लिया गया था ! हेपेटोटॉक्सिसिटी के अन्य मामलों को जी कैंबोगिया की खुराक के अंतर्ग्रहण से संबंधित “शायद” के रूप में सूचित किया गया है !

गार्सिनिआ कम्बोगिआ का अन्य दवाओं के साथ इंटरेक्शन Interaction of garcinia combogia in Hindi

गार्सिनिया सेरोटोनिन नामक मस्तिष्क रसायन को बढाता है ! गार्सिनिआ कम्बोगिआ को dextromethorphan और Robitussin DM के साथ लेने से मस्तिष्क में बहुत अधिक सेरोटोनिन का उत्त्पादन हो सकता है ! जिसके परिणामस्वरूप हृदय की समस्याएं, कंपकंपी और चिंता सहित कई दुष्प्रभाव हो सकते हैं ! इसलिए अगर आप डेक्स्ट्रोमेथोर्फन और Robitussin DM ले रहे हैं तो गार्सिनिआ कम्बोगिआ के सेवन से बचें !

Milk thistle in Hindi मिल्क थिस्ल के 15 फायदे और नुकसान Previous post Milk thistle in Hindi मिल्क थिस्ल के 15 फायदे और नुकसान
Prega news in Hindi प्रेगा न्यूज़ किट का उपयोग लाभ एवं चेक कैसे करें Next post Prega news in Hindi प्रेगा न्यूज़ किट का उपयोग लाभ एवं चेक कैसे करें

चिकित्सा की स्थिति, डाइट, उपचार, निदान और घरेलू उपचार के बारे में उपलब्ध जानकारी, केवल सामान्य रूप से पढ़ने के लिए है ! उपर्युक्त लेख हमेशा त्रुटि रहित, पूर्ण या अद्यतित नहीं भी हो सकता है ! हालाँकि कोई त्रुटि ना हो इसका पूरा रिव्यु लिया जाता है ! Fit & Well Health का उद्देश्य किसी चिकित्सक से परामर्श को प्रतिस्थापित करना नहीं है ! कोई भी स्वास्थ्य समस्या होने पर किसी डॉक्टर से उपचार अवश्य करवायें !

Social Link