Sleepless, insomnia in hindi अनिद्रा (नींद नहीं आना) के कारण लक्षण और घरेलू उपाय

Sleepless, insomnia अनिद्रा के कारण लक्षण और घरेलू उपाय

Home remedies for insomnia or sleepless in Hindi : आज मानव जीवन इतना व्यस्त हो चुका है ! कि उसे अपने स्वास्थ्य को सुरक्षित रखने और उसका ध्यान रखने का वक्त नहीं मिल पाता है ! शरीर का ध्यान न देने और खराब दिनचर्या की वजह से अनेकों प्रकार की बीमारियां हो सकती हैं ! आजकल लोगों में अनिद्रा जैसी बीमारी को देखा जा रहा है ! एक मनुष्य के स्वस्थ शरीर को अच्छी नींद बेहद आवश्यक है और यदि आप अनिद्रा जैसी बीमारी से ग्रस्त हैं ! तो यह डिप्रेशन का भी कारण बन सकती है ! आज के इस स्वास्थ्य वर्धक लेख में हम आप सभी लोगों को अनिद्रा क्या है ? इसके लक्षण, कारण और इसके घरेलू उपाय क्या है?, इसके ऊपर विशेषकर विस्तारपूर्वक लेख प्रस्तुत करने वाले हैं ! तो इसे आप अंतिम तक अवश्य पढ़ें और इस बीमारी से खुद को सुरक्षित रखें !

अनिद्रा रोग क्या है what is sleepless in Hindi

Insomnia or sleepless disease information in Hindi : अनिद्रा को हम अंग्रेजी भाषा में इनसोम्निया और स्लीपिंग डिसऑर्डर के नाम से भी जानते हैं। यह मनुष्य के नींद से संबंधित एक घातक रोग है। इस बीमारी से ग्रसित इंसान को ठीक से नींद नहीं आती या यूं कहें, कि उसे एक अच्छी नींद लेने में बहुत ही समस्याओं का सामना करना पड़ता है। एक अच्छी नींद ना लेने से मनुष्य को जितना सोना चाहिए, वह उतना सो नहीं पाता है। अच्छी नींद ना लेने से मनुष्य दिनभर खुद को थका महसूस करता है !

और उसका मस्तिष्क भी ठीक तरीके से कार्य नहीं कर पाता है। जैसे-जैसे यह बीमारी रोगियों को ज्यादा जागृति जाती है वैसे वैसे इसके रोगियों को अनेकों प्रकार के स्वास्थ्य विकार होने लगते हैं और वह एक प्रकार से खुद को कहीं ना कहीं भूलने लगता है अर्थात इंसान पागल की स्थिति में भी इस बीमारी की वजह से पहुंच सकता है !

और यदि यह बीमारी अत्यधिक घातक हो गई तो इससे मनुष्य की जान भी जा सकती है ! इसीलिए इस बीमारी को कभी भी हल्के में नहीं लेना चाहिए और इसका लक्षण, कारण पता करने पर तुरंत चिकित्सक से आवश्यक प्राथमिक इलाज करवाना चाहिए !

अनिद्रा बीमारी के कितने प्रकार होते हैं Types of sleepless in hindi

Insomnia or sleepless disease ke prakar : अनिद्रा बीमारी के मुख्य रूप से दो प्रकार होते हैं ! और इसी के आधार पर इस बीमारी का इलाज भी किया जाता है ! आइए जानते हैं अनिद्रा बीमारी के प्रकार जो इस प्रकार से नीचे निम्नलिखित है !

एक्यूट इनसोम्निया

अनिद्रा बीमारी की स्थिति में इसके ग्रसित रोगियों को कुछ दिनों या कुछ हफ्तों तक अनिद्रा की शिकायत रहती है। अनिद्रा का यह प्रकार मुख्य रूप से नॉर्मल होता है ! और इसमें किसी भी प्रकार का ज्यादा खतरा इसके रोगियों को नहीं होता ! मुख्य रूप से पर्सनल प्रॉब्लम या पारिवारिक परेशानी के कारण ऐसा होता है

क्रॉनिक इनसोम्निया

अनिद्रा की बीमारी का यह सबसे घातक रूप होता है ! और इसमें रोगियों को महीनों या फिर इससे भी ज्यादा इस बीमारी की समस्या निरंतर रूप से बनी रहती है ! अनिद्रा के इस प्रकार को होने पर रोगियों को अनेकों प्रकार की स्वास्थ्य संबंधित अन्य बीमारियां हो सकती है ! और यहां तक की इससे ग्रसित व्यक्ति खुद के साथ सामंजस्य ना होने की वजह से कुछ भी कर सकता है ! इसीलिए इसका पता चलने पर इसका प्रारंभिक इलाज तत्काल करना शुरू कर दें !

अनिद्रा बीमारी के कारण causes of sleepless

Causes of sleepless disorder disease in Hindi : अनिद्रा बीमारी होने के अनेकों प्रकार के कारण हो सकते हैं ! और उनमें से कुछ इस प्रकार मुख्य रूप से हैं, जो नीचे निम्नलिखित है !

  • मानसिक रूप से अस्वस्थ होने के कारण भी व्यक्ति अनिद्रा का शिकार हो सकता है
  • अत्यधिक कार्य का तनाव भी अनिद्रा का कारण बनता है
  • हाई ब्लड प्रेशर, अस्थमा /asthma के मरीज दवाइयों के सेवन से भी अनिद्रा का शिकार हो सकते है
  • अवसाद तनाव और चिंता की अनीता का कारण बनती है
  • गठिया /gout रोग और सिर दर्द में भी व्यक्ति अनिद्रा का शिकार हो सकता है
  • कार्य और कार्य स्थल बदलने के कारण भी अनिद्रा जैसी बीमारी हो सकती है
अनिद्रा के लक्षण

Symptoms of sleepless disorder disease in Hindi : यदि आपको अनिद्रा बीमारी के समय पर लक्षण पता चल जाए, तो आप इस बीमारी को खुद से दूर रख सकते हैं ! और इसके लक्षण नीचे इस प्रकार से निम्नलिखित हैं !

रात में पर्याप्त नींद ना आने के कारण पाचन क्रिया खराब हो जाती है ! साथ ही ब्लड प्रेशर बढ़ने की शिकायत होने लगती है ! व्यक्ति चिड़चिड़ा सा हो जाता है और चक्कर से आने लगते हैं ! त्वचा पर झुर्रियां पढ़ने लगती हैं ! एकाग्र होने में कठिनाई आना शरीर में और मस्तिष्क में थकान महसूस होना किसी भी काम को करने में मन का ना लगना इत्यादि लक्षण आने लगते हैं !

अनिद्रा बीमारी के घरेलू उपाय sleepless home remedy

Home remedies for insomnia or sleepless disease in Hindi : यदि आपको अनिद्रा जैसी बीमारी के कुछ लक्षण महसूस हो रहे हैं और आपको लग रहा है कि आप अनिद्रा जैसी घातक बीमारी का शिकार होने वाले हैं, तो ऐसे में कुछ ऐसे घरेलू उपाय हैं, जिन्हें करने पर आप इस बीमारी से खुद को सुरक्षित रख सकते हैं और यदि आप इस बीमारी की चपेट में है, तो इन घरेलू उपाय के जरिए उसे ठीक भी कर सकते हैं !

कीवी फल का सेवन करें- ज्यादातर मस्तिष्क में ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस बनने पर ही अनिद्रा जैसी घातक बीमारी का होने की संभावनाएं अत्यधिक हो जाती है ! और ऐसे में कीवी फल के अंदर भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट के अच्छे गुण पाए जाते हैं ! इन सभी चीजों के अतिरिक्त कीवी फल के अंदर दिमाग को शांत करने के भी लाभकारी गुण पाए जाते हैं ! अनिद्रा जैसी समस्याओं को दूर करने के लिए प्रत्येक दिन कम से कम 2 ताजे कीवी फल खाने चाहिए ! और इससे नींद के इस विकार को ठीक किया जा सकता है !

शहद का सेवन करें- यदि आप चिंता मुक्त और एक गहरी नींद का आनंद लेना चाहते हैं ! तो इसके लिए आपको शहद का सेवन करना चाहिए ! यदि सोने से 1 घंटे पहले प्रत्येक दिन नियमित रूप से एक चम्मच शहद का सेवन करें ! तो काफी अच्छी नींद आ सकती है ! और यह अनिद्रा जैसी बीमारी को ठीक करने में भी काफी कारगर घरेलू उपाय माना जाता है !

दूध का सेवन करें- जैसा कि हम सभी लोग जानते हैं ! दूध के अंदर अनेकों प्रकार के विटामिंस और शरीर को स्वस्थ रखने के ढेर सारे सकारात्मक गुण पाए जाते हैं ! इसके अतिरिक्त दूध में अच्छी नींद को बढ़ावा प्रदान करने वाले भी काफी सारे गुण मौजूद होते हैं ! और इसीलिए अनिद्रा की समस्या होने पर आप दूध का भी सहारा ले सकते हैं ! इसके लिए आपको प्रत्येक दिन रात में सोने से लगभग 10 से 15 मिनट ! पहले हल्के गर्म दूध को कम से कम एक गिलास पीना चाहिए ! और फिर देखिए आपको कितनी अच्छी और गहरी नींद आती है !

निष्कर्ष

यदि आप अब तक नींद नहीं आने के बेहतरीन उपचार से अनजान थे, तो आज का हमारा यह लेख आप को Sleepless के बारे में जानकारी प्रदान करने में काफी ज्यादा लाभकारी सिद्ध हुआ होगा। यदि इस लेख से संबंधित आपके कोई सवाल या सुझाव है, तो आप हमें कमेंट बॉक्स में अवश्य बताएं !

धन्यवाद….