Mangosteen in Hindi मैंगोस्टीन फल के फायदे, खुराक और नुकसान

Mangosteen in Hindi मैंगोस्टीन फल के फायदे, खुराक और नुकसान

मैंगोस्टीन एक उष्णकटिबंधीय फल है ! औषधि के रूप में इसके फल, फलों का रस, छिलका, टहनी और छाल का उपयोग किया जाता है ! Mangosteen in Hindi मैंगोस्टीन का उपयोग कई स्थितियों के लिए किया जाता है ! जैसे कि दस्त, मूत्र पथ के संक्रमण (यूटीआई), सूजाक, थ्रश, तपेदिक, मासिक धर्म संबंधी विकार, कैंसर, पुराने ऑस्टियोआर्थराइटिस और पेचिश नामक आंतों के संक्रमण के लिए किया जाता है !

यह रोगप्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है ! और मानसिक स्वास्थ्य में भी सुधार करता है ! कुछ लोग एक्जिमा और अन्य त्वचा रोगों के लिए त्वचा पर मैंगोस्टीन लगाते हैं ! मैंगोस्टीन को अक्सर मीठे फल के रूप में खाया जाता है या जाम बनाने में उपयोग किया जाता है ! इतिहास बताता है कि यह महारानी विक्टोरिया का पसंदीदा फल था !

इन दिनों, मैंगोस्टीन का रस एक लोकप्रिय “स्वास्थ्य पेय” बन रहा है ! इसे आमतौर पर “जैंगो जूस” के नाम से बेचा जाता है ! कुछ विपणक दावा करते हैं कि ज़ैंगो का रस दस्त, मासिक धर्म की समस्याओं, मूत्र पथ के संक्रमण, तपेदिक और कई अन्य स्थितियों का इलाज कर सकता है ! हालांकि, इन दावों का समर्थन करने के लिए कोई विश्वसनीय वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है !

मैंगोस्टीन क्या है What is mangosteen in Hindi

मैंगोस्टीन अर्थात (गार्सिनिया मैंगोस्टाना) भारत के केरल सहित दूसरे देशो में फलित उष्णकटिबंधीय फल है ! यह मीठा और थोड़ा खट्टा स्वाद में उपलब्ध है ! यह मूल रूप से दक्षिण पूर्व एशिया से है ! लेकिन दुनिया भर के विभिन्न उष्णकटिबंधीय क्षेत्रों में पाया जा सकता है !

फल को कभी-कभी बैंगनी मैंगोस्टीन कहा जाता है क्योंकि गहरे बैंगनी रंग के कारण इसका छिलका परिपक्व होने पर विकसित होता है ! इसके विपरीत, रसदार आंतरिक मांस चमकदार सफेद होता है !

हालांकि मैंगोस्टीन Mangosteen in Hindi एक अपेक्षाकृत अस्पष्ट फल है ! इसे अनदेखा नहीं किया जाना चाहिए ! क्योंकि यह पोषक तत्वों, फाइबर और अद्वितीय एंटीऑक्सीडेंट की समृद्ध आपूर्ति के कारण कई स्वास्थ्य लाभ प्रदान कर सकता है !

मैंगोस्टीन के अन्य नाम Other name of mangosteen

अमीबियासिन, राजाओं का फल, गार्सिनिया मैंगोस्टाना, ज़ैंगो जूस, मैंग कट, मैंगिस, मैंगिस्तान ! मैंगोस्टा, मैंगोस्तान, मैंगोस्टाना, मैंगोस्टेनियर, मैंगोस्टाओ, मैंगोस्टीन का पेड़, नेवला ! मैंगोस्टीन, फलों की रानी, ​​मेसेटर, रानी, सेमेताह, ज़ांगो, ज़ांगो जूस इत्यादि !

मैंगोस्टीन से मिलने वाले पोषक तत्व Nutrition in mangosteen in Hindi

Mangosteen in Hindi (इस फल) में फाइबर, कार्बोहाइड्रेट तथा कई प्रकार के विटामिन पर्याप्त मात्रा में मौजूद होते हैं ! इसे इस प्रकार से समझा जा सकता है ! एक कप मैंगोस्टीन (लगभग 196-ग्राम) जूस या पाउडर से निम्नलिखित पोषक तत्व प्राप्त किया जा सकता हैं !

  • कार्ब्स : 35 ग्राम
  • फाइबर : 3.5 ग्राम
  • प्रोटीन : 1 ग्राम
  • कैलोरी : 143
  • फैट : 1 ग्राम
  • मैंगनीज : आरडीआई का 10 प्रतिशत
  • कॉपर : आरडीआई का 7 प्रतिशत
  • मैग्नीशियम : आरडीआई का 6 प्रतिशत
  • विटामिन सी : आरडीआई का 9 प्रतिशत
  • विटामिन बी9 : (फोलेट) : आरडीआई का 15 प्रतिशत
  • विटामिन बी 1 : (थायमिन) : आरडीआई का 7 प्रतिशत
  • विटामिन बी 2 : (राइबोफ्लेविन) : आरडीआई का 6 प्रतिशत

मैंगोस्टीन के फायदे Mangosteen benefits in Hindi

मैंगोस्टीन Mangosteen in Hindi में मिलने वाले अनूठे तत्वों ने इसे कई लोगों के लिए पसंदीदा गर्मियों का फल बना दिया है ! जिससे शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के लिए इसके अद्भुत फायदे मिलते हैं !

ह्रदय स्वास्थ्य में इम्प्रूवमेंट लाये

मैंगोस्टीन रक्त वाहिकाओं को फैलाकर शरीर के सभी अंगों, विशेष रूप से हृदय तक उचित रक्त प्रवाह सुनिश्चित करता है ! मैंगोस्टीन का यह काल्पनिक गुण उच्च रक्तचाप के लक्षणों जैसे तीव्र हाई बीपी सिरदर्द, तनाव और धड़कन के उपचार में बहुत मूल्यवान है ! यह ट्राइग्लिसराइड्स के स्तर को भी नियंत्रित करता है, हृदय गति को नियंत्रित करता है ! और सामान्य रक्तचाप को बनाए रखने में सहायता करता है। इसलिए यह सीने में दर्द, दिल के दौरे और एथेरोस्क्लेरोसिस जैसी ह्रदय संबंधी बीमारियों को रोकने में अत्यधिक प्रभावी है !

बूस्ट इम्यून सिस्टम

विटामिन सी में प्रचुर मात्रा में होने के कारण, मैंगोस्टीन सुरक्षात्मक एंटीऑक्सीडेंट गुण प्रदान करता है ! और एक कुशल प्रतिरक्षा प्रणाली बनाता है। एंटीऑक्सिडेंट शरीर में स्वस्थ कोशिकाओं को नष्ट होने से बचाते हैं, जबकि एंटीबॉडी नामक प्रोटीन वायरस से सिस्टम की रक्षा करते हैं ! जो निमोनिया, फ्लू और सामान्य सर्दी जैसी बीमारियों का कारण बनते हैं !

शरीर दर्द से राहत प्रदान करे

मैंगोस्टीन में भारी मात्रा में ज़ैंथोन होते हैं, जो प्राकृतिक रूप से पाए जाने वाले पौधों के यौगिकों का एक समूह है ! Xanthones मानव प्रणाली के तनावग्रस्त क्षेत्रों में दबाव को कम करने में कार्य करता है ! मैंगोस्टीन में यह महत्वपूर्ण गुण गठिया, कटिस्नायुशूल और मासिक धर्म में ऐंठन के कारण असहनीय शरीर के दर्द से राहत के लिए इसे एक उल्लेखनीय उपाय बनाता है !

मष्तिष्क गतिबिधि को बढ़ाता है

फ्लेवोनोइड्स (शक्तिशाली एंटीऑक्सिडेंट) और फोलेट (विटामिन बी 9) के साथ, मैंगोस्टीन मस्तिष्क तक जाने वाली नसों के माध्यम से संकेतों के सुचारू संचरण में सहायता करता है ! इसके अलावा, यह मस्तिष्क की कोशिकाओं में प्लक के संचय को रोकता है ! और याददाश्त में भी सुधार करता है ! इसलिए यह अल्जाइमर रोग जैसी न्यूरोडीजेनेरेटिव स्थितियों में संज्ञानात्मक क्षमताओं को बढ़ाने में बहुत उपयोगी है !

उम्र बढ़ने को धीमा करता है

मैंगोस्टीन कैटेचिन नामक एंटीऑक्सीडेंट का पावरहाउस है, जो ग्रीन टी में भी मौजूद होता है ! यह अणु त्वचा में स्वस्थ कोशिकाओं को खराब होने से बचाता है ! और त्वचा की कोशिकाओं में रक्त और पोषक तत्वों के प्रवाह को बढ़ावा देता है ! मैंगोस्टीन जीवाणु त्वचा संक्रमण का भी मुकाबला करता है, जिससे एक युवा, चमकदार और स्वस्थ त्वचा प्राप्त होती है !

रक्त शर्करा के स्तर को कम करता है

मैंगोस्टीन न केवल गर्मियों के लिए एक सुखद स्वाद प्रदान करता है, बल्कि आहार फाइबर और ज़ैंथोन की प्रचुर मात्रा में आपूर्ति करता है ! जो एंटीऑक्सिडेंट गुणों के साथ शक्तिशाली फाइटोन्यूट्रिएंट हैं ! घुलनशील और अघुलनशील फाइबर भूख को नियंत्रित करने, असामयिक भूख इच्छा को नियंत्रित करने, पाचन को बढ़ावा देने, ऊर्जा चयापचय को बढ़ाने में मदद करते हैं ! इसके अलावा, मैंगोस्टीन में प्राप्त ज़ैंथोन हानिकारक मुक्त कणों और शरीर से विषाक्त पदार्थों को खत्म करता है !

और इंसुलिन संश्लेषण को बढ़ाता है, और मांसपेशियों की कोशिकाओं द्वारा रक्त शर्करा के बेहतर प्रसंस्करण के लिए कार्य करता है ! यह रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित रखने और मधुमेह के लक्षणों को प्रभावी ढंग से प्रबंधित करने में मदद करता है !

कैंसर के खतरे को कम करे

मैंगोस्टीन को पौधों से प्राप्त बायोएक्टिव घटकों के ढेरों के रूप में जाना जाता है ! इनमें फाइटोन्यूट्रिएंट्स, एंटीऑक्सिडेंट और कैंसर विरोधी गुण होते हैं ! साथ ही पॉलीफेनोल्स, ज़ैंथोन, टैनिन, प्रोसायनिडिन, एंथोसायनिन सहित यौगिक ट्यूमर कोशिकाओं को नष्ट करने और शरीर के भीतर कैंसर कोशिकाओं के मेटास्टेसिस को रोकने में जबरदस्त क्षमता प्रदर्शित करते हैं ! इसके अलावा, वे कई महत्वपूर्ण आंतरिक अंगों जैसे स्तन, फेफड़े, यकृत, गुर्दे, पेट, आंतों और अग्न्याशय में घातक ऊतकों के गठन को काफी हद तक रोकते हैं ! ताकि कैंसर के खतरे को टाला जा सके !

त्वचा के ऊत्तकों को पोषण प्रदान करे

विटामिन बी, विटामिन सी साथ ही ज़ैंथोन, फ्लेवोनोइड और कैटेचिन एंटीऑक्सिडेंट की पर्याप्त मात्रा से परिपूर्ण मैंगोस्टीन त्वचा की बनावट को फिर से जीवंत करने के लिए शानदार प्रोत्साहन प्रदान करता है ! विटामिन सी एक शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट है ! जो शरीर से हानिकारक मुक्त कणों को हटाता है ! और उन्हें स्वस्थ त्वचा कोशिकाओं के ऑक्सीकरण से रोकता है ! और विटामिन बी, विशेष रूप से फोलेट, त्वचा के ऊतकों की एक नई परत के नवीनीकरण के लिए रक्त परिसंचरण को बढ़ावा देता है !

ज़ैंथोन और फ्लेवोनोइड्स सूजन को काफी कम करते हैं और मुंहासों के निशानों को ठीक करते हैं ! सूरज की हानिकारक यूवी किरणों से त्वचा को बचाते हैं, जबकि कैटेचिन युवा, उज्ज्वल, स्पष्ट त्वचा के लिए चेहरे पर झुर्रियों, सैगिंग, महीन रेखाओं को कम करके उत्कृष्ट एंटी-एजिंग लाभ प्रदान करते हैं !

इम्प्रूव डाइजेशन

मैंगोस्टीन Mangosteen in Hindi फाइबर से भरपूर होता है ! सिर्फ 1 कप (196 ग्राम) का लगभग 14% फाइबर प्रदान करता है ! फाइबर पाचन स्वास्थ्य के लिए आवश्यक है, और उच्च फाइबर आहार आंत्र नियमितता को बढ़ावा देने में मदद करते हैं ! मैंगोस्टीन कब्ज, एसिडिटी, अपच जैसी समस्या राहत दे सकता है !

मैंगोस्टीन को कैसे खाएं How to eat mangosteen

मैंगोस्टीन तैयार करना और खाना आसान है हालांकि आप जहां रहते हैं उसके आधार पर इसे खोजना मुश्किल हो सकता है ! फलों का मौसम अपेक्षाकृत कम होता है, जो अक्सर इसकी उपलब्धता को सीमित कर देता है !

इसे विशेष रूप से एशियाई बाजारों में देखा जा सकता है, लेकिन ध्यान रखें कि ताजा मैंगोस्टीन काफी महंगा हो सकता है ! बर्फ में या फ्रिज में रखे हुए अथवा डिब्बाबंद रूप सस्ते और खोजने में आसान हो सकते हैं ! लेकिन ध्यान रखें कि डिब्बाबंद संस्करणों में अक्सर अतिरिक्त चीनी होती है !

यदि आप एक ताजा फल प्राप्त करना चाहते हैं, तो एक चिकनी, गहरे बैंगनी बाहरी छिलके वाले फल चुनें ! इसका छिलका अखाद्य है लेकिन दाँतेदार चाकू से आसानी से छिला जा सकता है !

पकने पर भीतरी मांस सफेद और बहुत रसदार होता है। फल के इस हिस्से को कच्चा भी खाया जा सकता है ! या स्मूदी या ट्रॉपिकल फ्रूट सलाद में मिलाकर खाया जा सकता है !

मैंगोस्टीन कि खुराक Doses of mangosteen in Hindi

मैंगोस्टीन की उपयुक्त खुराक कई कारकों पर निर्भर करती है जैसे कि उपयोगकर्ता की उम्र, स्वास्थ्य और कई अन्य स्थितियां ! इस समय मैंगोस्टीन के लिए उचित मात्रा में खुराक निर्धारित करने के लिए पर्याप्त वैज्ञानिक जानकारी नहीं है ! ध्यान रखें कि प्राकृतिक उत्पाद हमेशा सुरक्षित नहीं होते हैं ! और खुराक महत्वपूर्ण हो सकते हैं ! उत्पाद लेबल पर प्रासंगिक निर्देशों का पालन करना सुनिश्चित करें और उपयोग करने से पहले अपने फार्मासिस्ट या चिकित्सक या अन्य स्वास्थ्य देखभाल पेशेवर से परामर्श लें !

सावधानियां और चेतावनी Precautions and warnings

गर्भावस्था और स्तनपान : यदि आप गर्भवती हैं या स्तनपान करा रही हैं तो मैंगोस्टीन लेने के बारे में पर्याप्त विश्वसनीय जानकारी नहीं है ! इसलिए सुरक्षित पक्ष पर रहें और उपयोग से बचें !

रक्तश्राव विकार : मैंगोस्टीन रक्त के थक्के को धीमा कर सकता है ! मैंगोस्टीन लेने से रक्तस्राव विकार वाले लोगों में रक्तस्राव का खतरा बढ़ सकता है !

सर्जरी : मैंगोस्टीन रक्त के थक्के को धीमा कर सकता है ! मैंगोस्टीन लेने से सर्जरी के दौरान या बाद में रक्तस्राव का खतरा बढ़ सकता है। सर्जरी से 2 सप्ताह पहले मैंगोस्टीन लेना बंद कर दें !

मैंगोस्टीन खाने के दुष्प्रभाव Side effect of mangosteen in Hindi

इसे जब मुंह 12-16 सप्ताह तक से लिया जाता है ! तब मैंगोस्टीन Mangosteen in Hindi संभावित रूप से सुरक्षित होता है ! परन्तु यह कब्ज, सूजन, मतली, उल्टी और थकान का कारण बन सकता है !